Thursday, May 23, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

भाजपा प्रत्याशी मतदान केंद्र में EVM तोड़ने के आरोप में गिरफ्तार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भाजपा प्रत्याशी मतदान केंद्र में EVM तोड़ने के आरोप में गिरफ्तार

नई दिल्ली । भारतीय जनता पार्टी के ओडिशा के गंजाम जिले स्थित सोरादा विधानसभा सीट से चुनावों में उतरे उमीदवार नीलमणि बिसोई को मतदान केंद्र जाकर ईवीएम तोड़ने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है । भाजपा प्रत्याशी ने गुरुवार को दूसरे चरण के मतदान के दौरान सोरादा विधानसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार नीलमणि बिसोई ने अपने समर्थकों के साथ कथित रूप से सोरादा थानांतर्गत रेनती गांव में एक मतदान केन्द्र में प्रवेश किया था। आरोप हैं कि इस दौरान मतदान अधिकारियों को अपने कर्तव्य का निर्वहन करने से रोका।

पुलिस ने कहा घटना मतदान खत्म होने से एक घंटे पहले हुई, तब तक उस मतदान केन्द्र के कुल 539 में से 414 मतदाता वोट दे चुके थे। बिसोई को मतदान केन्द्र के पीठासीन अधिकारी पीके जेना और असका के अनुविभागीय पुलिस अधिकारी सूर्यमणि प्रधान से शिकायत मिलने के बाद गिरफ्तार किया गया। कलेक्टर-सह-जिला निर्वाचन अधिकारी विजय अमृता कुलंगे ने कहा, "ईवीएम को पूरी तरह तोड़ दिया गया। हमने मतदान केन्द्र के पीठासीन अधिकारी की रिपोर्ट को मुख्य निर्वाचन अधिकारी को भेज दिया है।

उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग मतदान केन्द्र पर दोबारा चुनाव कराने पर अंतिम फैसला लेगा। नीलमणि के भाई बसंत कुमार बिसोई ने हालांकि दावा किया कि सत्ताधारी बीजद के कार्यकर्ताओं ने ईवीम को तोड़ा ना कि नीलमणि ने। ओडिशा में लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ हो रहे हैं।  इससे पहले आंध्र प्रदेश में जन सेना पार्टी के एक उम्मीदवार ने लोकसभा और विधानसभा चुनाव के लिए हो रहे मतदान के दौरान ईवीएम मशीन को तोड़ दिया था, इसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।


 

 

 

Todays Beets: