Monday, May 28, 2018

Breaking News

   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||

कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने दिया एक विवादित बयान, कहा-कर्नाटक में रहने वालों को कन्नड़ सीखना होगा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने दिया एक विवादित बयान, कहा-कर्नाटक में रहने वालों को कन्नड़ सीखना होगा

बंगलुरु। भाजपा नेताओं के बाद कर्नाटक के मुख्यमंत्री एस सिद्धारमैया ने भी एक विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में रहने वाले को कन्नड़ सीखना होगा नहीं तो यह भाषा का अपमान माना जाएगा। मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने यह बात कर्नाटक की स्थापना दिवस पर मनाए जाने वाले राजोत्सव के दौरान कही है। बता दें कि 1956 में इसी दिन दक्षिण भारत के कन्नड़ बोलने वाले प्रदेशों को मिलाकर कर्नाटक बनाया गया था।

कन्नड़ सीखनी होगी

गौरतलब है कि कर्नाटक दिवस के मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री एस सिद्धारमैया ने कहा कि यहां रहने वाले सभी लोग कन्नड़िया हैं और उन्हें कन्नड़ भाषा सीखनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वे कोई और भाषा सीखें इससे उन्हें कोई एतराज नहीं है लेकिन उन्हें खुद के साथ बच्चों को भी कन्नड़ सीखनी चाहिए ऐसा नहीं करने का मतलब भाषा का अपमान माना जाएगा।


ये भी पढ़ें - हिमाचल में कांग्रेस ने जारी किया घोषणापत्र, कहा- 2003 के बाद भर्ती कर्मचारियों की पुरानी पेंश...

पीएम ने दी बधाई

आपको बता दें कि 62वें कर्नाटक राजोत्सव के मौके पर बोलते हुए सिद्धारमैया ने यह भी कहा कि कर्नाटक के हर स्कूल को वहां पढ़ने आने वाले छात्रों को कन्नड़ सिखानी चाहिए। कार्यक्रम से पहले मोदी ने ट्वीट के जरिए कर्नाटक राजोत्सव की बधाई दी थी।

Todays Beets: