Friday, July 20, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

योग सिखाने वाली राफिया नाज के खिलाफ फतवा जारी, जान से मारने की दी जा रही धमकी 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
योग सिखाने वाली राफिया नाज के खिलाफ फतवा जारी, जान से मारने की दी जा रही धमकी 

रांची। योगगुरु स्वामी रामदेव के साथ मंच साझा कर सुर्खियों में आने वाली मुस्लिम छात्रा राफिया नाज को उसके ही समुदाय से जान से मारने की धमकी मिल रही है। योग सिखाना बंद करने के लिए उसके खिलाफ फतवा जारी किया गया है। इसके बाद प्रशासन की तरफ से उसकी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। फिलहाल एक महिला और एक पुरुष पुलिस को उसकी सुरक्षा में तैनात किया गया है। ऐसी खबरें मिल रहीं हैं कि लड़की को उसके ही समुदाय के लोगों से धमकियां मिली हैं जिसमें कहा गया है कि वह किसी को भी योग न सिखाए। 

सुरक्षा कड़ी की गई

गौरतलब है कि राफिया नाज लोगों को योग सिखाकर अपने परिवार का खर्चा चलाती है और रांची के एक काॅलेज से एम. काॅम भी कर रही है। कुछ दिनों पहले योगगुरु स्वामी रामदेव के साथ मंच पर योग सिखाकर वह चर्चा में आई थी।  झारखंड के मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव संजय कुमार के संज्ञान में बात आने के बाद राफिया की सुरक्षा कड़ी करने के आदेश दिए गए हैं। 


ये भी पढ़ें - रघुराम राजन को राज्यसभा का उम्मीदवार बना सकती है ‘आप’, आंतरिक कलह को दूर करने की कोशिश

फतवे का कोई डर नहीं

बता दें कि योग सिखाने की वजह से उसके खिलाफ फतवा जारी कर इसे बंद करने के लिए कहा गया है। राफिया ने पत्रकारों को बताया कि उसे मुसलमानों की तरफ से योग सिखाना बंद करने के लिए फतवा दिया जा रहा है वहीं दूसरे संगठनों की तरफ से नाम बदलने के लिए कहा जा रहा है ताकि लोग उससे योग सीखने में संकोच न करें। हालांकि नाज ने कहा, ‘मैं योग करना जारी रखूंगी और जीवन के अंत तक योग सिखाती रहूंगी।’

Todays Beets: