Wednesday, January 24, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

योग सिखाने वाली राफिया नाज के खिलाफ फतवा जारी, जान से मारने की दी जा रही धमकी 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
योग सिखाने वाली राफिया नाज के खिलाफ फतवा जारी, जान से मारने की दी जा रही धमकी 

रांची। योगगुरु स्वामी रामदेव के साथ मंच साझा कर सुर्खियों में आने वाली मुस्लिम छात्रा राफिया नाज को उसके ही समुदाय से जान से मारने की धमकी मिल रही है। योग सिखाना बंद करने के लिए उसके खिलाफ फतवा जारी किया गया है। इसके बाद प्रशासन की तरफ से उसकी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। फिलहाल एक महिला और एक पुरुष पुलिस को उसकी सुरक्षा में तैनात किया गया है। ऐसी खबरें मिल रहीं हैं कि लड़की को उसके ही समुदाय के लोगों से धमकियां मिली हैं जिसमें कहा गया है कि वह किसी को भी योग न सिखाए। 

सुरक्षा कड़ी की गई

गौरतलब है कि राफिया नाज लोगों को योग सिखाकर अपने परिवार का खर्चा चलाती है और रांची के एक काॅलेज से एम. काॅम भी कर रही है। कुछ दिनों पहले योगगुरु स्वामी रामदेव के साथ मंच पर योग सिखाकर वह चर्चा में आई थी।  झारखंड के मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव संजय कुमार के संज्ञान में बात आने के बाद राफिया की सुरक्षा कड़ी करने के आदेश दिए गए हैं। 


ये भी पढ़ें - रघुराम राजन को राज्यसभा का उम्मीदवार बना सकती है ‘आप’, आंतरिक कलह को दूर करने की कोशिश

फतवे का कोई डर नहीं

बता दें कि योग सिखाने की वजह से उसके खिलाफ फतवा जारी कर इसे बंद करने के लिए कहा गया है। राफिया ने पत्रकारों को बताया कि उसे मुसलमानों की तरफ से योग सिखाना बंद करने के लिए फतवा दिया जा रहा है वहीं दूसरे संगठनों की तरफ से नाम बदलने के लिए कहा जा रहा है ताकि लोग उससे योग सीखने में संकोच न करें। हालांकि नाज ने कहा, ‘मैं योग करना जारी रखूंगी और जीवन के अंत तक योग सिखाती रहूंगी।’

Todays Beets: