Friday, January 19, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

गुजरात में बाढ़ का कहर, 72 की मौत, 25 हजार को सुरक्षित जगह पर पहुंचाया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
गुजरात में बाढ़ का कहर, 72 की मौत, 25 हजार को सुरक्षित जगह पर पहुंचाया

अहमदाबाद।

गुजरात में बाढ़ का कहर जारी है। बाढ़ की वजह से राज्य में अब तक 72 लोगों की मौत हो  चुकी है। कई जिलों के रिहायशी इलाकों में पानी भरा हुआ है। दरअसल, राज्य की ज़्यादातर नदियां उफ़ान पर हैं, जिससे यहां के 10 से ज्यादा जिलों में बाढ़ आई है या बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। वायुसेना और एनडीआरएफ की टीमें राहत और बचाव कार्य में जुटी हुई हैं। अब तक 25 हज़ार से ज्यादा लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचा दिया गया है।

ये भी पढ़ें— देवभूमि में अगले तीन दिनों तक हो सकती भारी बारिश, मौसम विभाग की चेतावनी के बाद प्रशासन अलर्ट

जानकारी के अनुसार, एनडीआरएफ की 6 और टीमों को बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत के लिए भेजा गया है। साथ ही बीएसएफ और सेना के जवान भी राहत में जुटे हैं। बाढ़ से सबसे ज्यादा बनासकांठा, साबरकांठा, पाटन जिले प्रभावित हैं। लोगों को खाने-पीने की दिक्कत हो रही है। बाजार और मंडी सब पानी में डूब गई है। जिलों में स्कूलों को बंद करने के आदेश दिए गए हैं। बनासकांठा के भरथ गांव में 100 लोग फंसे हुए हैं। बनासकांठा और पाटन जिले में बारिश से सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं। यहां 900 जानवर मारे जा चुके हैं। पिछले 24 घंटों के भीतर धानेरा में 250 एमएम, पालनपुर में 255 एमएम, दांतिवाडा में 342 एमएम बारिश दर्ज की गई है।

ये भी पढ़ें— उत्तर प्रदेश में गरीब परिवारों को मुफ्त बिजली कनेक्शन बांटेगी योगी आदित्यनाथ की सरकार


कई राज्यों में बाढ़ का खतरा

गुजरात के अलावा कई राज्यों में बाढ़ का खतरा बना हुआ है। राजस्थान में पिछले 10 दिनों से रुक-रुककर हो रही बारिश की वजह से बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं। बाढ़ की वजह से यहां 11 से ज़्यादा लोगों की मौत हो गई है। चुरू, जोधपुर, नागौर, जालौर, उदयपुर और पाली में हालात सबसे ज़्यादा ख़राब हैं। राजस्थान में बनास और सीपु दोनों ही नदियां उफान पर हैं। सीपु और दांतेवाड़ा बांध अपने खतरे के निशान पर हैं, जिसके चलते वहां से पानी छोड़ा जाएगा। इसकी वजह से आसपास के 100 से ज्यादा गांवों को खाली करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं।

मौसम विभाग ने पांच राज्यों में अगले 24 घंटों में तेज  बारिश होने का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, असम और गुजरात में भारी बारिश और बाढ़ की खतरा है।

 

 

Todays Beets: