Wednesday, August 23, 2017

Breaking News

   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||   SC में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए याचिका दायर, कोर्ट ने दिया केंद्र को नोटिस    ||   राज्यसभा में सिब्बल बोले- छप रहे 1 नंबर के दो नोट, सदी का सबसे बड़ा घोटाला    ||   नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का आज होगा विस्तार, शपथ ले सकते हैं 16 मंत्री    ||   सपा को तगड़ा झटका, बुक्कल नवाब समेत 2 MLC का इस्तीफा, की मोदी-योगी की तारीफ    ||   नगालैंड: शुरहोजेली ने विश्वासमत से पहले ही मानी हार, ज़ेलियांग ने ली CM पद की शपथ    ||   बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा- पार्टी कहेगी तो दे दूंगा इस्तीफा    ||   डोकलाम विवाद: भारतीय सीमा के पास खूब हथियार जमा कर रहा है चीन!    ||   रवि शास्त्री की चाहत- सचिन को मिले भारतीय बल्लेबाजी का जिम्मा    ||

पुलिस पूछताछ में विकास बराला बोला- हमने अपहरण का कोई प्रयास नहीं किया, हां पीछा किया था

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पुलिस पूछताछ में विकास बराला बोला- हमने अपहरण का कोई प्रयास नहीं किया, हां पीछा किया था

चंडीगढ़ । आईएएस अधिकारी की बेटी से छेड़छाड़ और अपहरण की कोशिश जैसे आरोपों का सामना कर रहे हरियाणा भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला और उसके साथी आशीष को बुधवार पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों से पूछताछ की। दोनों ने पुलिस पूछताछ में बताया कि उनका वर्णिका कुंडू का अपहरण करने की कोई योजना नहीं थी। वो तो उसे जानते तक नहीं है। सूत्रों का कहना है कि पूछताछ में विकास ने अपने दोस्त के साथ वर्णिका का पीछा करने वाली बात कबूल कर ली है।  आज दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जाएगा। 

सूत्रों के मुताबिक, विकास और उसके साथी ने पूछताछ में कबूल किया है कि वे वर्णिका को पहले से नहीं जानते, उन्होंने उसी रात सेक्टर 9 में वर्णिका को पहली बार देखा था। जब पुलिस ने उनसे वर्णिका के अपहरण संबंधी बात पूछी गई तो दोनों ने इसे खारिज करते हुए कहा कि हां हमने उसकी कार का पीछा जरूर किया था। इसके बाद उसने पुलिस को बुला लिया और पुलिस ने हमें गिरफ्तार कर लिया। हालांकि उस दौरान मौके पर पहुंची पुलिस ने पाया था कि दोनों नशे में थे, जिसकी मेडिकल जांच में पुष्टि हुई है। 


बता दें कि विकास बराला और आशीष कुमार पर आरोप लगे हैं कि दोनों ने वरिष्ठ आईएएस अफसर की बेटी वर्णिका की कार का पीछा किया और उसके अपहरण की भी कोशिश की। दोनों ने लड़की की कार का दरवाजा खोलने के भी प्रयास किए, लेकिन युवती ने कार के दरवाजे को लॉक कर दिया और पुलिस को फोन कर दिया, जिसके बाद पुलिस ने दोनों को दबोच लिया था। हालांकि उस दौरान पुलिस ने उन्हें जमानत दे दी थी, लेकिन बाद में गैर जमानती धाराएं लगाने पर पुलिस ने एक बार फिर इनकी गिरफ्तारी के लिए दबिश देना शुरू किया। 

 

Todays Beets: