Saturday, August 19, 2017

Breaking News

   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||   SC में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए याचिका दायर, कोर्ट ने दिया केंद्र को नोटिस    ||   राज्यसभा में सिब्बल बोले- छप रहे 1 नंबर के दो नोट, सदी का सबसे बड़ा घोटाला    ||   नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का आज होगा विस्तार, शपथ ले सकते हैं 16 मंत्री    ||   सपा को तगड़ा झटका, बुक्कल नवाब समेत 2 MLC का इस्तीफा, की मोदी-योगी की तारीफ    ||   नगालैंड: शुरहोजेली ने विश्वासमत से पहले ही मानी हार, ज़ेलियांग ने ली CM पद की शपथ    ||   बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा- पार्टी कहेगी तो दे दूंगा इस्तीफा    ||   डोकलाम विवाद: भारतीय सीमा के पास खूब हथियार जमा कर रहा है चीन!    ||   रवि शास्त्री की चाहत- सचिन को मिले भारतीय बल्लेबाजी का जिम्मा    ||

भारी बारिश और भूस्खलन से हिमाचल प्रदेश की कई सड़कें बाधित, कई जगह रोड भूस्खलन की चपेट में

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भारी बारिश और भूस्खलन से हिमाचल प्रदेश की कई सड़कें बाधित, कई जगह रोड भूस्खलन की चपेट में

सारन । भारी बारिश और भूस्खलन के चलते बुधवार को हिमाचल प्रदेश के सारन जिले की ओर जाने वाली अधिकांश प्रमुख सड़के बाधित हो गई है। भूस्खलन के चलते जिले के रोहरू से रामपुर जाने वाली सड़क काफी हद तक टूट गई है, जिसके चलते पूरे जिला एक तरफ पड़ गया है। इतना ही मौसम विभाग ने आने वाल समय में भी इलाके में भारी बारिश की चेतावनी दी है, जिसके चलते प्रशासन ने लोगों से बिना किसी कारण घरों से बाहर न  निकलने की हिदायत दी है। मौसम विभाग का कहना है कि अगले 24 से 48 घंटे तक राज्य के विभिन्न इलाकों में भारी बारिश होगी, जिसके चलते भूस्खलन हो सकता है। 

 


इन खबरों के मद्देनजर प्रशासन ने सभी आपदा राहत विभाग को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं। बताया जा रहा है कि सारन जिले की कई सड़कों पर मलबा गिरने और कई जगहों पर सड़कों के पूरी तरह खत्म हो जाने से इलाके में प्रवेश प्रतिबंधित हो गया है। इससे पहले मंगलवार को भी एक व्यक्ति की भूस्खलन के चलते मौत हो गई थी, जबकि किन्नौर जिले के निगुलसरी गांव के दो लोग भूस्खलन की चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गए। 

Todays Beets: