Sunday, July 22, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

भारी बारिश और भूस्खलन से हिमाचल प्रदेश की कई सड़कें बाधित, कई जगह रोड भूस्खलन की चपेट में

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भारी बारिश और भूस्खलन से हिमाचल प्रदेश की कई सड़कें बाधित, कई जगह रोड भूस्खलन की चपेट में

सारन । भारी बारिश और भूस्खलन के चलते बुधवार को हिमाचल प्रदेश के सारन जिले की ओर जाने वाली अधिकांश प्रमुख सड़के बाधित हो गई है। भूस्खलन के चलते जिले के रोहरू से रामपुर जाने वाली सड़क काफी हद तक टूट गई है, जिसके चलते पूरे जिला एक तरफ पड़ गया है। इतना ही मौसम विभाग ने आने वाल समय में भी इलाके में भारी बारिश की चेतावनी दी है, जिसके चलते प्रशासन ने लोगों से बिना किसी कारण घरों से बाहर न  निकलने की हिदायत दी है। मौसम विभाग का कहना है कि अगले 24 से 48 घंटे तक राज्य के विभिन्न इलाकों में भारी बारिश होगी, जिसके चलते भूस्खलन हो सकता है। 

 


इन खबरों के मद्देनजर प्रशासन ने सभी आपदा राहत विभाग को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं। बताया जा रहा है कि सारन जिले की कई सड़कों पर मलबा गिरने और कई जगहों पर सड़कों के पूरी तरह खत्म हो जाने से इलाके में प्रवेश प्रतिबंधित हो गया है। इससे पहले मंगलवार को भी एक व्यक्ति की भूस्खलन के चलते मौत हो गई थी, जबकि किन्नौर जिले के निगुलसरी गांव के दो लोग भूस्खलन की चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गए। 

Todays Beets: