Thursday, November 23, 2017

Breaking News

   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||   अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित नहीं करेगा चीन, प्रस्ताव पर रोक लगाने के संकेत     ||   दुनिया की सबसे लंबी सुरंग बनाकर चीन अब ब्रह्मपुुत्र नदी का पानी रोकने का बना रहा है प्लान     ||   पीएम मोदी को शीला दीक्षित ने दिया जवाब- हमने नहीं भुलाया पटेल का योगदान    ||   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||

तमिलनाडु में भारी बारिश जारी, प्रशासन ने जारी किए हाई अलर्ट, स्कूल काॅलेजों को बंद रखने के आदेश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
तमिलनाडु में भारी बारिश जारी, प्रशासन ने जारी किए हाई अलर्ट, स्कूल काॅलेजों को बंद रखने के आदेश

चेन्नई। तमिलनाडु में हो रही लगातार भारी बारिश के चलते बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं। इसे देखते हुए प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी कर दिया है और सभी स्कूलों एवं कॉलेजों को बंद रखने के आदेश जारी किए गए हैं। खबरों के अनुसार चेन्नई में घर की दीवार ढहने से एक शख्स की मौत हो गई है। मौसम विभाग ने आने वाले समय में और बारिश होने की संभावना जताई है। बता दें कि 2015 में भी हुई भारी बारिश में करीब 200 लोगों की मौत हो गई थी।

हाई अलर्ट जारी

गौरतलब है कि बारिश की वजह से चेन्नई, तिरुवल्लुर और कांचीपुरम के स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया गया है। मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों तक भारी बारिश की आशंका व्यक्त की है, विभाग के अनुसार राज्य में भारी बारिश की वजह बंगाल की खाड़ी में बना साइक्लोन है। बारिश की स्थिति को देखते हुए  नागापट्टनम, कांचीपुरम, तंजौर, तिरुवल्लूर और रामनाथपुरम में भी हाईअलर्ट घोषित किया गया है। जगह-जगह पानी भर जाने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। 

ये भी पढ़ें - स्कूली छात्रों से भरी बस में लगी भयंकर आग, दमकल की तीन गाड़ियों ने आग पर पाया काबू, सभी छात्र ...


सैकड़ों लोगों की मौत

आपको बता दें कि राज्य में भारी बारिश के साथ तेज हवाएं भी चल रहीं हैं ऐसे में नुकसान और ज्यादा होने की संभावना जताई जा रही है। साल 2015 में भी ऐसी ही स्थिति पैदा हो गई थी जिसमें करीब 200 लोगों की मौत हो गई थी। सरकारी स्तर पर हालात से निपटने के पूरे प्रयास किए जा रहे हैं। 

 

Todays Beets: