Tuesday, January 22, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

तमिलनाडु में भारी बारिश जारी, प्रशासन ने जारी किए हाई अलर्ट, स्कूल काॅलेजों को बंद रखने के आदेश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
तमिलनाडु में भारी बारिश जारी, प्रशासन ने जारी किए हाई अलर्ट, स्कूल काॅलेजों को बंद रखने के आदेश

चेन्नई। तमिलनाडु में हो रही लगातार भारी बारिश के चलते बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं। इसे देखते हुए प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी कर दिया है और सभी स्कूलों एवं कॉलेजों को बंद रखने के आदेश जारी किए गए हैं। खबरों के अनुसार चेन्नई में घर की दीवार ढहने से एक शख्स की मौत हो गई है। मौसम विभाग ने आने वाले समय में और बारिश होने की संभावना जताई है। बता दें कि 2015 में भी हुई भारी बारिश में करीब 200 लोगों की मौत हो गई थी।

हाई अलर्ट जारी

गौरतलब है कि बारिश की वजह से चेन्नई, तिरुवल्लुर और कांचीपुरम के स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया गया है। मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों तक भारी बारिश की आशंका व्यक्त की है, विभाग के अनुसार राज्य में भारी बारिश की वजह बंगाल की खाड़ी में बना साइक्लोन है। बारिश की स्थिति को देखते हुए  नागापट्टनम, कांचीपुरम, तंजौर, तिरुवल्लूर और रामनाथपुरम में भी हाईअलर्ट घोषित किया गया है। जगह-जगह पानी भर जाने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। 

ये भी पढ़ें - स्कूली छात्रों से भरी बस में लगी भयंकर आग, दमकल की तीन गाड़ियों ने आग पर पाया काबू, सभी छात्र ...


सैकड़ों लोगों की मौत

आपको बता दें कि राज्य में भारी बारिश के साथ तेज हवाएं भी चल रहीं हैं ऐसे में नुकसान और ज्यादा होने की संभावना जताई जा रही है। साल 2015 में भी ऐसी ही स्थिति पैदा हो गई थी जिसमें करीब 200 लोगों की मौत हो गई थी। सरकारी स्तर पर हालात से निपटने के पूरे प्रयास किए जा रहे हैं। 

 

Todays Beets: