Friday, August 17, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

तमिलनाडु में भारी बारिश जारी, प्रशासन ने जारी किए हाई अलर्ट, स्कूल काॅलेजों को बंद रखने के आदेश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
तमिलनाडु में भारी बारिश जारी, प्रशासन ने जारी किए हाई अलर्ट, स्कूल काॅलेजों को बंद रखने के आदेश

चेन्नई। तमिलनाडु में हो रही लगातार भारी बारिश के चलते बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं। इसे देखते हुए प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी कर दिया है और सभी स्कूलों एवं कॉलेजों को बंद रखने के आदेश जारी किए गए हैं। खबरों के अनुसार चेन्नई में घर की दीवार ढहने से एक शख्स की मौत हो गई है। मौसम विभाग ने आने वाले समय में और बारिश होने की संभावना जताई है। बता दें कि 2015 में भी हुई भारी बारिश में करीब 200 लोगों की मौत हो गई थी।

हाई अलर्ट जारी

गौरतलब है कि बारिश की वजह से चेन्नई, तिरुवल्लुर और कांचीपुरम के स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया गया है। मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों तक भारी बारिश की आशंका व्यक्त की है, विभाग के अनुसार राज्य में भारी बारिश की वजह बंगाल की खाड़ी में बना साइक्लोन है। बारिश की स्थिति को देखते हुए  नागापट्टनम, कांचीपुरम, तंजौर, तिरुवल्लूर और रामनाथपुरम में भी हाईअलर्ट घोषित किया गया है। जगह-जगह पानी भर जाने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। 

ये भी पढ़ें - स्कूली छात्रों से भरी बस में लगी भयंकर आग, दमकल की तीन गाड़ियों ने आग पर पाया काबू, सभी छात्र ...


सैकड़ों लोगों की मौत

आपको बता दें कि राज्य में भारी बारिश के साथ तेज हवाएं भी चल रहीं हैं ऐसे में नुकसान और ज्यादा होने की संभावना जताई जा रही है। साल 2015 में भी ऐसी ही स्थिति पैदा हो गई थी जिसमें करीब 200 लोगों की मौत हो गई थी। सरकारी स्तर पर हालात से निपटने के पूरे प्रयास किए जा रहे हैं। 

 

Todays Beets: