Monday, May 28, 2018

Breaking News

   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||

तमिलनाडु में भारी बारिश जारी, प्रशासन ने जारी किए हाई अलर्ट, स्कूल काॅलेजों को बंद रखने के आदेश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
तमिलनाडु में भारी बारिश जारी, प्रशासन ने जारी किए हाई अलर्ट, स्कूल काॅलेजों को बंद रखने के आदेश

चेन्नई। तमिलनाडु में हो रही लगातार भारी बारिश के चलते बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं। इसे देखते हुए प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी कर दिया है और सभी स्कूलों एवं कॉलेजों को बंद रखने के आदेश जारी किए गए हैं। खबरों के अनुसार चेन्नई में घर की दीवार ढहने से एक शख्स की मौत हो गई है। मौसम विभाग ने आने वाले समय में और बारिश होने की संभावना जताई है। बता दें कि 2015 में भी हुई भारी बारिश में करीब 200 लोगों की मौत हो गई थी।

हाई अलर्ट जारी

गौरतलब है कि बारिश की वजह से चेन्नई, तिरुवल्लुर और कांचीपुरम के स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया गया है। मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों तक भारी बारिश की आशंका व्यक्त की है, विभाग के अनुसार राज्य में भारी बारिश की वजह बंगाल की खाड़ी में बना साइक्लोन है। बारिश की स्थिति को देखते हुए  नागापट्टनम, कांचीपुरम, तंजौर, तिरुवल्लूर और रामनाथपुरम में भी हाईअलर्ट घोषित किया गया है। जगह-जगह पानी भर जाने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। 

ये भी पढ़ें - स्कूली छात्रों से भरी बस में लगी भयंकर आग, दमकल की तीन गाड़ियों ने आग पर पाया काबू, सभी छात्र ...


सैकड़ों लोगों की मौत

आपको बता दें कि राज्य में भारी बारिश के साथ तेज हवाएं भी चल रहीं हैं ऐसे में नुकसान और ज्यादा होने की संभावना जताई जा रही है। साल 2015 में भी ऐसी ही स्थिति पैदा हो गई थी जिसमें करीब 200 लोगों की मौत हो गई थी। सरकारी स्तर पर हालात से निपटने के पूरे प्रयास किए जा रहे हैं। 

 

Todays Beets: