Thursday, January 17, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

हिंदू जागरण मंच की स्कूलों को हिदायत, ईसाइयों का त्योहार क्रिसमस न मनाएं, धर्मांतरण की साजिश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
हिंदू जागरण मंच की स्कूलों को हिदायत, ईसाइयों का त्योहार क्रिसमस न मनाएं, धर्मांतरण की साजिश

लखनऊ । यूपी के अलीगढ़ में हिंदू जागरण मंच (एचजेएम) ने क्रिसमस को मनाए जाने को लेकर एक खास तरह का फरमान जारी किया है। हिंदू जागरण मंच ने स्कूलों से कहा है कि वे अपने यहां क्रिसमस न मनाएं। अग्रेजी अखबार द हिंदू की खबर के मुताबिक, हिंदू जागरण मंच की अलीगढ़ इकाई के अध्यक्ष सोनू सविता ने कहा है कि ये हमारी सभ्यता का हिस्सा नहीं है। इसके पीछे क्रिस्चियन स्कूलों की एक साजिश है। क्रिसमस को भारत में मनाने के पीछे हिंदू बच्चों को धर्मांतरण के लिए लुभाने की एक गहरी साजिश है, जिसे सफल नहीं होने दिया जाएगा। 

ये भी पढ़ें- फारुख अब्दुल्ला के कड़वे बोल, कहा- भाजपा ये कैसा भारत बना रही है, मैं समझता हूं भारत का अंत आने वाला है

हिंदू जागरण मंच की अलीगढ़ इकाई के अध्यक्ष सोनू सविता ने कहा है कि मैं इस मुद्दे पर साफ करना चाहता हूं कि हम ईसाइयों के क्रिसमस मनाने के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन हमे इस बात से दिक्कत है कि ईसासी त्योहार हिंदू बच्चों पर थोपा जा रहा है। हम इसे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि जब हमारे स्कूल में ईसासी समुदाय के बच्चों की संख्या बेहद कम है तो फिर इन स्कूलों में हिंदू बच्चों के लिए क्रिसमस का जश्न ये स्कूल क्यों मनाते हैं। यह चलन गलत है, जिसे सहा नहीं जाएगा।


ये भी पढ़ें-गुजरात मॉडल को नहीं मानते गुजराती, हमने बेहतर चुनाव लड़ा, भाजपा को ही लगा करारा झटका - राहुल गांधी

संगठन के पदाधिकारियों का कहना है कि वे इस मुद्दे को लेकर ऐसे अभिभावकों को भी जागरूक करेंगे, जिनके बच्चे इन मिशनरी स्कूलों में पढ़ते हैं। अगर इन स्कूलों ने हिंदू बच्चों से जबरन क्रिसमस का जश्न मनाने को कहा तो हिंदू जागरण मंच और उसके साथ अन्य हिंदू संगठन स्कूलों के बाहर विरोध प्रदर्शन करेंगे। 

Todays Beets: