Monday, May 28, 2018

Breaking News

   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||

हिंदू जागरण मंच की स्कूलों को हिदायत, ईसाइयों का त्योहार क्रिसमस न मनाएं, धर्मांतरण की साजिश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
हिंदू जागरण मंच की स्कूलों को हिदायत, ईसाइयों का त्योहार क्रिसमस न मनाएं, धर्मांतरण की साजिश

लखनऊ । यूपी के अलीगढ़ में हिंदू जागरण मंच (एचजेएम) ने क्रिसमस को मनाए जाने को लेकर एक खास तरह का फरमान जारी किया है। हिंदू जागरण मंच ने स्कूलों से कहा है कि वे अपने यहां क्रिसमस न मनाएं। अग्रेजी अखबार द हिंदू की खबर के मुताबिक, हिंदू जागरण मंच की अलीगढ़ इकाई के अध्यक्ष सोनू सविता ने कहा है कि ये हमारी सभ्यता का हिस्सा नहीं है। इसके पीछे क्रिस्चियन स्कूलों की एक साजिश है। क्रिसमस को भारत में मनाने के पीछे हिंदू बच्चों को धर्मांतरण के लिए लुभाने की एक गहरी साजिश है, जिसे सफल नहीं होने दिया जाएगा। 

ये भी पढ़ें- फारुख अब्दुल्ला के कड़वे बोल, कहा- भाजपा ये कैसा भारत बना रही है, मैं समझता हूं भारत का अंत आने वाला है

हिंदू जागरण मंच की अलीगढ़ इकाई के अध्यक्ष सोनू सविता ने कहा है कि मैं इस मुद्दे पर साफ करना चाहता हूं कि हम ईसाइयों के क्रिसमस मनाने के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन हमे इस बात से दिक्कत है कि ईसासी त्योहार हिंदू बच्चों पर थोपा जा रहा है। हम इसे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि जब हमारे स्कूल में ईसासी समुदाय के बच्चों की संख्या बेहद कम है तो फिर इन स्कूलों में हिंदू बच्चों के लिए क्रिसमस का जश्न ये स्कूल क्यों मनाते हैं। यह चलन गलत है, जिसे सहा नहीं जाएगा।


ये भी पढ़ें-गुजरात मॉडल को नहीं मानते गुजराती, हमने बेहतर चुनाव लड़ा, भाजपा को ही लगा करारा झटका - राहुल गांधी

संगठन के पदाधिकारियों का कहना है कि वे इस मुद्दे को लेकर ऐसे अभिभावकों को भी जागरूक करेंगे, जिनके बच्चे इन मिशनरी स्कूलों में पढ़ते हैं। अगर इन स्कूलों ने हिंदू बच्चों से जबरन क्रिसमस का जश्न मनाने को कहा तो हिंदू जागरण मंच और उसके साथ अन्य हिंदू संगठन स्कूलों के बाहर विरोध प्रदर्शन करेंगे। 

Todays Beets: