Monday, August 20, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

बेटी की स्कूल फीस मांगने पर पति ने दिया तलाक, पुलिस ने मामला किया दर्ज

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बेटी की स्कूल फीस मांगने पर पति ने दिया तलाक, पुलिस ने मामला किया दर्ज

लखनऊ।  उत्तरप्रदेश में मुस्लिम महिला पर अत्याचार का एक अनोखा मामला सामने आया है। उसके पति ने बेटी की स्कूल फीस मांगने पर उसक तलाक दे दिया। अब तलाक मिलने के बाद महिला और बेटी दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर है। हालांकि पुलिस ने महिला के पति के खिलाफ घरेलू हिंसा का मामला दर्ज कर लिया है। महिला सुरक्षा के सरकार के तमाम दावे खोखले साबित हो रहे हैं। 

गौरतलब है कि मामला रुपईडीहा कस्बे के रहने वाले यूनूस की बेटी शगूफा का है। उसका निकाह 17 वर्ष पहले नौशाद से हुआ था। पति बेरोजगार था इसलिए उसने सिलाई-कढ़ाई करके पति के लिए आॅटो रिक्शा का बंदोबस्त किया। नौशाद आॅटो रिक्शा के जरिए परिवार की आर्थिक मदद करने के बजाय आॅटो ही जुए में हार गया। ऐसे में परिवार के सामने बड़ा आर्थिक संकट खड़ा हो गया। भरी आर्थिक संकट के बाद भी शगूफा अपनी बेटी को पढ़ाती रही लेकिन स्कूल की फीस जमा नहीं होने से उसे स्कूल से भी निकाल दिया गया। 

ये भी पढ़ें - दिल्ली-एनसीआर में 15 अगस्त के करीब आतंकी हमले का अलर्ट , योगी आदित्यनाथ भी हैं दहशतगर्दों के ...


बताया जा रहा है कि 3 अगस्त को शगूफा ने पति नौशाद के घर पर आने पर उससे स्कूल की फीस मांगी। फीस का बात सुनते ही नौशाद गुस्से से लाल हो गया और तीन बार तलाक बोलकर दोनों मां-बेटी को घर से बाहर निकाल दिया। इधर-उधर भटकने के बाद शगूफा रुपईडीहा थाने पहुंची और पति के खिलाफ तहरीर दी। तहरीर पर पुलिस ने पति के खिलाफ देर शाम घरेलू हिंसा का मुकदमा दर्ज किया है। फिलहाल वह एक रिश्तेदार के घर पर शरण ली हुई है।

 

पुलिस का कहना है कि महिला की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया है और विवेचना में जो भी सच्चाई सामने आएगी उसके बाद कार्रवाई की जाएगी। 

Todays Beets: