Thursday, November 23, 2017

Breaking News

   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||   अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित नहीं करेगा चीन, प्रस्ताव पर रोक लगाने के संकेत     ||   दुनिया की सबसे लंबी सुरंग बनाकर चीन अब ब्रह्मपुुत्र नदी का पानी रोकने का बना रहा है प्लान     ||   पीएम मोदी को शीला दीक्षित ने दिया जवाब- हमने नहीं भुलाया पटेल का योगदान    ||   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||

एक और ‘स्वयंभू’ पर आज अदालत सुनाएगी अपना फैसला, हिसार में प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट

अंग्वाल न्यूज डेस्क
एक और ‘स्वयंभू’ पर आज अदालत सुनाएगी अपना फैसला, हिसार में प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट

हिसार। हरियाणा के एक और ‘स्वयंभू भगवान’ सतलोक आश्रम के संचालक रामपाल पर आज जूडिशियल मजिस्ट्रेट की अदालत अपना फैसला सुनाएगी। यह फैसला 2 बजे के बाद आएगा इस वजह से सुरक्षा कारणों से हिसार में धारा 144 लगा दी गई है। बता दें कि रामपाल पर देशद्रोह सहित कई दूसरे मामले दर्ज हैं। रामपाल के केस का फैसला 24 अगस्त को ही आना था लेकिन राम रहीम के मामले को देखते हुए सुरक्षा कारणों से इसे टाल दिया गया था। 

इन मामलों में आएगा फैसला

गौरतलब है कि रामपाल मामले ने 2014 में मीडिया में खूब सुर्खियां बटोरी थीं। जुडिशल मैजिस्ट्रेट मुकेश कुमार की अदालत आज सतलोक आश्रम से जुड़े केस नंबर 426 और 427 में फैसला सुनाएगी। इन दोनों मामलों में रामपाल सहित 11 लोग आरोपी हैं। रामपाल के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने और आश्रम के अंदर महिलाओं को बंधक बनाकर रखने का आरोप है। 


ये भी पढ़ें - वन्यजीवन पर खतरे की आशंका पर एनजीटी सख्त, कालागढ़ बांध काॅलोनी में रहने वाले 900 से ज्यादा परि...

हिसार में धारा 144

आपको बता दें कि रामपाल पर आने वाले फैसले के मद्देनजर हिसार में धारा 144 लगा दी गई है। हरियाणा पुलिस ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। शहर को पूरी तरह सील कर दिया गया है। शहर में 10 अतिरिक्त नाके लगाकर पुलिस की ड्यूटी लगाई गई है। यहां बता दें कि 24 अगस्त को रामपाल और उनके समर्थकों के खिलाफ फैसला आने की संभावना के चलते बड़ी संख्या में उनके समर्थक हिसार में जमा हो गए थे लेकिन पुलिस से उन्हें बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन से ही वापस  वापस लौटा दिया था। हिसार में आज भी समर्थकों को आने से रोका जा रहा है। राम रहीम मामले से सबक लेते हुए पुलिस और प्रशासन अलर्ट है। शहर में प्रशासन की स्थिति न बिगड़े इसके लिए हिसार की सेंट्रल जेल के अंदर ही एक स्पेशल कोर्ट बनाकर इन मामलों की सुनवाई चल रही है।

Todays Beets: