Saturday, April 20, 2019

Breaking News

   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||

लालू की बेटी मीसा के विवादित बोल- कहा- मन करता है चारा काटने वाले गंडासे से रामकृपाल यादव का हाथ काट दूं

अंग्वाल संवाददाता
लालू की बेटी मीसा के विवादित बोल- कहा- मन करता है चारा काटने वाले गंडासे से रामकृपाल यादव का हाथ काट दूं

पटना । राज्यसभा सांसद और राजद प्रमुख लालू यादव की बेटी मीसा भारती के एक विवादित बयान ने राज्य की सियासी माहौल को गर्मा दिया है। सीमा भारत ने पटना के ब्रिकम में आयोजित एक कार्यकर्ता सम्मेलन में केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव का हाथ गंड़ासे से काटने की बात कही। उन्होंने कहा कि कुछ समय पहले तक मैं रामकृपाल यादव का काफी सम्मान करती थी, लेकिन अब सम्मान सब खत्म। उन्होंने तो सुशील मोदी से हाथ मिला लिया है। उनके इस बयान के बाद राज्य का सियासी माहौल गर्मा गया है।

ममता बनर्जी - भाजपा सरकार दंगे करवाती है , फिर से सत्ता में आई तो समझो देश गया , इसे बदलना होगा 

असल में राजद के कोटे से राज्यसभा सांसद बनी मीसा भारती ने कार्यर्ता सम्मेलन में कहा कि जिस दिन रामकृपाल यादव, सुबे के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी की किताब लेकर खड़े हुए थे, उस दिन मेरी ऐसी इच्छा हुई कि उसी गंडासे से मैं रामकृपाल का हाथ काट दूं, जिससे कभी जानवरों के लिए चारा काटा करते थे।

शत्रुधन सिन्हा LIVE - अटलजी की सरकार में लोकशाही थी, माननीय की सरकार में तानाशाही ,मैं सच के साथ रहूंगा

इस दौरान मीसा भारती उस किताब की बात कर रहीं थी, जिसे सुशील मोदी ने लालू यादव के जीवन पर लिखा था, इस किताब का नाम है लालू लीला। कार्यक्रम में मीसा भारत ने कहा कि इस किताब को लेकर वहीं रामकृपाल यादव खड़े हो गए, जिन्हें लालूजी ने कभी राजनीति सिखाई। वहीं ऐसे भीतरघाती हो गए कि लालूजी के विरोधियों से हाथ मिला बैठे।


PM मोदी LIVE - परिवार के विकास की न हमारी नीयत ना नीति , इससे विपक्षियों को भार तकलीफ

हालांकि इस दौरान मीसा भारती ने पार्टी कार्यकर्ताओं को हिदायत दी कि पार्टी का कोई भी संभावित प्रत्याक्षी अपनी दावेदारी पर खुलकर बात न करें। अभी सीटों पर अंतिम फैसला आना है। पार्टी के कार्यकर्ता अपने क्षेत्र में काम करते रहें। राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव टिकटों को लेकर अंतिम फैसला करेंगे।

भाजपा ने विपक्ष की मेगा रैली पर कसा तंज , रूड़ी बोले- जरा बताएं इस नाव की पतवार किसके हाथ

 

Todays Beets: