Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

लालू की बेटी मीसा के विवादित बोल- कहा- मन करता है चारा काटने वाले गंडासे से रामकृपाल यादव का हाथ काट दूं

अंग्वाल संवाददाता
लालू की बेटी मीसा के विवादित बोल- कहा- मन करता है चारा काटने वाले गंडासे से रामकृपाल यादव का हाथ काट दूं

पटना । राज्यसभा सांसद और राजद प्रमुख लालू यादव की बेटी मीसा भारती के एक विवादित बयान ने राज्य की सियासी माहौल को गर्मा दिया है। सीमा भारत ने पटना के ब्रिकम में आयोजित एक कार्यकर्ता सम्मेलन में केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव का हाथ गंड़ासे से काटने की बात कही। उन्होंने कहा कि कुछ समय पहले तक मैं रामकृपाल यादव का काफी सम्मान करती थी, लेकिन अब सम्मान सब खत्म। उन्होंने तो सुशील मोदी से हाथ मिला लिया है। उनके इस बयान के बाद राज्य का सियासी माहौल गर्मा गया है।

ममता बनर्जी - भाजपा सरकार दंगे करवाती है , फिर से सत्ता में आई तो समझो देश गया , इसे बदलना होगा 

असल में राजद के कोटे से राज्यसभा सांसद बनी मीसा भारती ने कार्यर्ता सम्मेलन में कहा कि जिस दिन रामकृपाल यादव, सुबे के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी की किताब लेकर खड़े हुए थे, उस दिन मेरी ऐसी इच्छा हुई कि उसी गंडासे से मैं रामकृपाल का हाथ काट दूं, जिससे कभी जानवरों के लिए चारा काटा करते थे।

शत्रुधन सिन्हा LIVE - अटलजी की सरकार में लोकशाही थी, माननीय की सरकार में तानाशाही ,मैं सच के साथ रहूंगा

इस दौरान मीसा भारती उस किताब की बात कर रहीं थी, जिसे सुशील मोदी ने लालू यादव के जीवन पर लिखा था, इस किताब का नाम है लालू लीला। कार्यक्रम में मीसा भारत ने कहा कि इस किताब को लेकर वहीं रामकृपाल यादव खड़े हो गए, जिन्हें लालूजी ने कभी राजनीति सिखाई। वहीं ऐसे भीतरघाती हो गए कि लालूजी के विरोधियों से हाथ मिला बैठे।


PM मोदी LIVE - परिवार के विकास की न हमारी नीयत ना नीति , इससे विपक्षियों को भार तकलीफ

हालांकि इस दौरान मीसा भारती ने पार्टी कार्यकर्ताओं को हिदायत दी कि पार्टी का कोई भी संभावित प्रत्याक्षी अपनी दावेदारी पर खुलकर बात न करें। अभी सीटों पर अंतिम फैसला आना है। पार्टी के कार्यकर्ता अपने क्षेत्र में काम करते रहें। राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव टिकटों को लेकर अंतिम फैसला करेंगे।

भाजपा ने विपक्ष की मेगा रैली पर कसा तंज , रूड़ी बोले- जरा बताएं इस नाव की पतवार किसके हाथ

 

Todays Beets: