Monday, March 25, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

अब देश के एक ओर राज्य में लागू हो जाएगी शराबबंदी , न शराब बेच सकेंगे न लोगों को पीने को मिलेगी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब देश के एक ओर राज्य में लागू हो जाएगी शराबबंदी , न शराब बेच सकेंगे न लोगों को पीने को मिलेगी

आइजोल । देश के कई राज्यों में शराबबंदी को लेकर उठ रहे स्वरों के बीच एक नए राज्य में मद्यनिषेध विधेयक को मंजूरी मिल गई है। यह राज्य कोई और नहीं बल्कि मिजोरम है, जहां मिजोरम मंत्रिमंडल ने राज्य में प्रस्तावित मद्य निषेध विधेयक को मंजूरी दे दी है। मुख्यमंत्री जोरामथांगा की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में मिजोरम मद्य निषेध विधेयक, 2019 को मंजूरी दी गई। अब इस विधेयक को 20 मार्च से शुरू होने वाले बजट सत्र के दौरान विधानसभा में पेश किया जाएगा।

बता दें कि मिजोरम की सत्तारूढ़ पार्टी मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) ने 2018 में हुए विधानसभा चुनावों के दौरान वादा किया था कि सत्ता में आने पर वह मिजोरम में पूर्ण शराबबंदी लागू करेगी। अब सत्ता में आने के बाद अपने पहले बजट सत्र से पहले जोरामथांगा मंत्रिमंडल ने मिजोरम मद्य निषेध विधेयक, 2019 को मंजूरी दे दी है। अधिकारियों ने इस फैसले की शनिवार को जानकारी दी।


विदित हो कि मिजोरम में पूर्ण मद्य निषेध कानून लागू होने के बाद से राज्य में 1997 से लेकर जनवरी 2015 तक पूर्ण शराबबंदी थी। लेकिन राज्य में पिछली कांग्रेस सरकार ने सत्ता में आने के बाद राज्य में शराब की दुकानें खोलने की अनुमति दे दी थी। इस पर राज्य में कई तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आईं, बड़ी संख्या में लोगों ने फिर से मद्यनिषेद विधेयक लाने की मांग की थी। राज्य की MNF पार्टी ने सत्ता में आने के बाद अपने वायदे को निभाते हुए अब इस विधेयक को मंत्रिमंडल की मंजूरी दे दी है।

Todays Beets: