Sunday, July 22, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

एमपी ने दुष्कर्मी नहीं डर रहे फांसी की सजा से, टीकमगढ़ में नाबालिग से 4 दबंगों ने किया गैंगरेप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
एमपी ने दुष्कर्मी नहीं डर रहे फांसी की सजा से, टीकमगढ़ में नाबालिग से 4 दबंगों ने किया गैंगरेप

टीकमगढ़ । मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ स्थित एक गांव में 4 दबंगों ने एक 14 साल की बच्ची के साथ गैंगरेप किया। नाबालिग को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिय है, जबकि अभी एक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।  टीकमगढ़ के एएसपी राकेश कुमार खाखा ने बताया कि टीकमगढ़ के मदुमार गांव में नाबालिग से रेप की शिकायत थाने में दर्ज कराई गई है। बच्ची की इलाज करवाया जा रहा है, वहीं फरार एक अन्य आरोपी की धरपकड़ के लिए पुलिस की टीमें दबिश दे रही हैं।

ये भी पढ़ें- बुखार से पीड़ित गर्भवती का 22 दिन इलाज, न बच्चा बचा न मां, अस्पताल ने पीड़ित परिजनों को सौंपा 18 लाख का बिल

बता दें कि नाबालिग बालिकाओं के साथ दुष्कर्म के मामले में भी मध्य प्रदेश पहले नंबर पर है। प्रदेश में इस तरह के 2479 मामले दर्ज किए गए जबकि इस मामले में महाराष्ट्र 2310 और उत्तर प्रदेश 2115 के आंकड़े के साथ क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर थे. पूरे भारत में 16,863 नाबालिग बालिकाओं के साथ बलात्कार के मामले दर्ज किए गए। 

ये भी पढ़ें- पीडीपी के विधायक ने मारे जाने वाले आतंकियों को बताया भाई, विधानसभा में जमकर हंगामा


एमपी में ये हाल तब है जब इन घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सरकार गत नवंबर में ऐसे अपराधियों को फांसी की सजा देने का प्रावधान करने वाले प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। प्रदेश के वित्तमंत्री जयंत मलैया ने बताया, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में आज हुई कैबिनेट की बैठक में प्रदेश में 12 साल या इससे कम उम्र की बालिकाओं के साथ बलात्कार या सामूहिक बलात्कार करने वाले अपराधियों को फांसी की सजा देने की सिफारिश वाले प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की गई।

ये भी पढ़ें- साउथ एक्सटेंशन में गुटखा निर्माता के घर आयकर विभाग का छापा, 61 करोड़ की संपत्ति जब्त

राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के मुताबिक मध्यप्रदेश इस मामले में पिछले साल देश में पहले स्थान पर था। एनसीआरबी के आंकड़ों के अनुसार 2017 में देश में 28,947 महिलाओं के साथ बलात्कार की घटना दर्ज की गईं। इसमें मध्य प्रदेश में 4882 महिलाओं के साथ बलात्कार की घटनाएं दर्ज हुईं, जबकि इस मामले में उत्तर प्रदेश 4816 और महाराष्ट्र 4189 की संख्या के साथ देश में दूसरे और तीसरे राज्य के तौर पर दर्ज किए गए।

ये भी पढ़ें- सेना दिवस के परेड से पहले बड़ा हादसा, रिहर्सल के दौरान हेलीकाॅप्टर से गिरा जवान, बाल-बाल बची जान

Todays Beets: