Thursday, October 18, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

स्व. चंद्र सिंह राही की दूसरी पुण्यतिथि पर आज 'सुरमयी संगीत संध्या', हैबिटेट सेंटर में पुत्र राकेश भारद्वाज देंगे संगीतमय श्रदांजलि

अंग्वाल संवाददाता
स्व. चंद्र सिंह राही की दूसरी पुण्यतिथि पर आज

नई दिल्ली । उत्तराखंड के गढ़वाल और कुमाऊं को सुरीले गीत और संगीत देने वाले मशहूर लोक गायक, गीतकार और कल्चरल एक्टिविस्ट स्व. चंद्र सिंह राही की दूसरी पुण्यतिथि के मौके पर उनके पुत्र राकेश भारद्वाज ने 10 जनवरी को नई दिल्ली के लोदी रोड स्थित इंडिया हैबिटेट सेंटर में एक संगीत संध्या का आयोजन किया है। इस दौरान स्व. राही के पुराने गानों को लोगों के सामने पेश किया जाएगा। प्रसिद्ध लोक गायक स्वर्गीय चंद्र सिंह राही के परिजन अब 'राही घराना' नाम से उनके गीत संगीत को धरोहर के रूप में सुरक्षित रखने की कोशिश कर रहे है। कार्यक्रम के बारे में राकेश भारद्वाज ने बताया कि इस कार्यक्रम के जरिए जहां मेरी कोशिश अपने गुरू और पिता को श्रद्धांजलि देना है, वहीं उनकी गायन शैली को नई पीढ़ी के लोगों तक पहुंचाना भी है। मुझे खुशी है कि पहाड़ के लोग स्व. चंद सिंह राही को बार-बार याद कर रहे हैं। इस कार्यक्रम में एंट्री निशुल्क रखी गई है। 

राकेश भारद्वाज ने कहा कि पिछले साल भी हमने पिता जी पुन्य तिथि पर ऐसे ही एक कार्यक्रम का सफल आयोजन किया था। ऐसे में हमने पिता की दूसरी पुन्य तिथि पर उनसे मिले संगीत को एक बार फिर से लोगों के सामने पेश कर उन्हें श्रद्धांजलि देने की योजना बनाई है। इस संगीत संध्या में उनके पिता के पुराने गानों की प्रस्तुति की जाएगी। खास बात यह होगी कि उनके गीतों को गाने वालों में कोई और नहीं बल्कि उनके ही परिवार के सदस्य होंगे। इनमें उनके नाती-पोते भी अपने स्वर के माध्यम से उन्हें श्रद्धांजलि देंगे। 


कार्यक्रम नई दिल्ली के लोदी रोड स्थित इंडिया हैबिटेट सेंटर में आयोजित होगा। कार्यक्रम शाम 7 बजे से शुरू होगा।  

Todays Beets: