Wednesday, August 15, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

स्व. चंद्र सिंह राही की दूसरी पुण्यतिथि पर आज 'सुरमयी संगीत संध्या', हैबिटेट सेंटर में पुत्र राकेश भारद्वाज देंगे संगीतमय श्रदांजलि

अंग्वाल संवाददाता
स्व. चंद्र सिंह राही की दूसरी पुण्यतिथि पर आज

नई दिल्ली । उत्तराखंड के गढ़वाल और कुमाऊं को सुरीले गीत और संगीत देने वाले मशहूर लोक गायक, गीतकार और कल्चरल एक्टिविस्ट स्व. चंद्र सिंह राही की दूसरी पुण्यतिथि के मौके पर उनके पुत्र राकेश भारद्वाज ने 10 जनवरी को नई दिल्ली के लोदी रोड स्थित इंडिया हैबिटेट सेंटर में एक संगीत संध्या का आयोजन किया है। इस दौरान स्व. राही के पुराने गानों को लोगों के सामने पेश किया जाएगा। प्रसिद्ध लोक गायक स्वर्गीय चंद्र सिंह राही के परिजन अब 'राही घराना' नाम से उनके गीत संगीत को धरोहर के रूप में सुरक्षित रखने की कोशिश कर रहे है। कार्यक्रम के बारे में राकेश भारद्वाज ने बताया कि इस कार्यक्रम के जरिए जहां मेरी कोशिश अपने गुरू और पिता को श्रद्धांजलि देना है, वहीं उनकी गायन शैली को नई पीढ़ी के लोगों तक पहुंचाना भी है। मुझे खुशी है कि पहाड़ के लोग स्व. चंद सिंह राही को बार-बार याद कर रहे हैं। इस कार्यक्रम में एंट्री निशुल्क रखी गई है। 

राकेश भारद्वाज ने कहा कि पिछले साल भी हमने पिता जी पुन्य तिथि पर ऐसे ही एक कार्यक्रम का सफल आयोजन किया था। ऐसे में हमने पिता की दूसरी पुन्य तिथि पर उनसे मिले संगीत को एक बार फिर से लोगों के सामने पेश कर उन्हें श्रद्धांजलि देने की योजना बनाई है। इस संगीत संध्या में उनके पिता के पुराने गानों की प्रस्तुति की जाएगी। खास बात यह होगी कि उनके गीतों को गाने वालों में कोई और नहीं बल्कि उनके ही परिवार के सदस्य होंगे। इनमें उनके नाती-पोते भी अपने स्वर के माध्यम से उन्हें श्रद्धांजलि देंगे। 


कार्यक्रम नई दिल्ली के लोदी रोड स्थित इंडिया हैबिटेट सेंटर में आयोजित होगा। कार्यक्रम शाम 7 बजे से शुरू होगा।  

Todays Beets: