Monday, December 18, 2017

Breaking News

   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद     ||   अश्विन ने लगाया विकेटों का सबसे तेज 'तिहरा शतक', लिली को छोड़ा पीछे     ||   पूरा हुआ सपना चौधरी का 'सपना', बेघर होने के साथ बॉलीवुड से मिला बड़ा ऑफर    ||   PAK सरकार ने शर्तें मानीं, प्रदर्शन खत्म करने कानून मंत्री को देना पड़ा इस्तीफा    ||   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||

चलती ट्रेन में मुस्लिम परिवार को दबंगों ने पीटा, रॉड से की मारपीट, सामान भी लूट ले गए

अंग्वाल न्यूज डेस्क
चलती ट्रेन में मुस्लिम परिवार को दबंगों ने पीटा, रॉड से की मारपीट, सामान भी लूट ले गए

फर्रुखाबाद।

चलती ट्रेन में मुस्लिम युवक जुनैद से मारपीट और हत्या का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था कि उत्तर प्रदेश के फर्रूखाबाद में ऐसा ही एक और मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार, दबंगों की भीड़ ने चलती ट्रेन में एक मुस्लिम परिवार पर हमला कर दिया और परिवार के लोगों की बेरहमी से पिटाई कर दी। इसके बाद उनका सामान भी लूट लिया। मामला बुधवार का है।

खबरों के अनुसार, मुस्लिम परिवार एक शादी समारोह में शामिल होने के बाद शिकोहाबाद—कासगंज पैसेंजर ट्रेन से लौट रहा था कि मोटा और निब्कारोरी रेलवे स्टेशन के बीच पांच लोगों के समूह ने परिवार के दिव्यांग बच्चे से उसका मोबाइल छीन लिया। जब परिवार ने इसका विरोध किया, तो उन्होंने परिवार के साथ मारपीट शुरू कर दी। पीड़ित परिवार ने बताया कि ट्रेन निब्कारोरी रेलवे स्टेशन पहुंचने वाली थी कि मारपीट करने वाले लोगों ने चैन खींचकर ट्रेन रोक दी और अपने साथियों को फोन कर बुलाया लिया। करीब एक दर्जन लोग लाठी और रॉड लेकर ट्रेन में पहुंचे और परिवार के साथ मारपीट शुरू कर दी और उनका सामान भी लूट लिया।

पुलिस ने बताया कि आठ लोग गंभीर तौर पर घायल हैं और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। पीड़ित परिवार का कहना है कि हमले के दौरान उन्होने इमरजेंसी नंबर 100 पर फोन लगाया, लेकिन फोन नहीं उठा और पुलिस भी देर से पहुंची, तब तक बदमाश भाग चुके थे। परिवार का कहना है कि पिटाई के साथ ही बदमाश उन पर सांप्रदायिक टिप्पणी भी कर रहे थे।


बता दें कि पिछले महीने  इसी तरह का हमला हरियाणा में नाबालिग जुनैद पर हुआ था। सीट के झगड़े को लेकर हुए हमले में भीड़ ने जुनैद की पीट—पीटकर हत्या कर दी। इस हमले में उसका भाई भी गंभीर तौर पर घायल हो गया था।

 

Todays Beets: