Monday, September 24, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

गोल्ड मेडल जीत चुका पहलवान बना अपराधी, हत्या के आरोप में गिरफ्तार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
गोल्ड मेडल जीत चुका पहलवान बना अपराधी, हत्या के आरोप में गिरफ्तार

रोहतक। नेशनल लेवल पर गोल्ड मेडल जीत चुके पहलवान राकेश मोखरिया को हत्या के एक मामले में रोहतक पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले भी मोखरिया एक हत्या के मामले में जेल जा चुके हैं। पुलिस ने मोखरिया पर 25 हजार का इनाम घोषित कर रखा था। पुलिस को उसके पास से 30 बोर की एक पिस्टल बरामद हुई है।

ये भी पढ़े- अब असम में भाजपा नेता को मिली धमकी, कहा-पार्टी छोड़ो नहीं तो जाएगी ‘जान’

यहां आपको बता दें कि रेसलर राकेश मोखरिया आसनिया गैंग का वांटेड अपराधी है। उस पर आरोप है कि पिछले साल जून में उसने आसन गांव के एक शराब ठेकेदार बलवीर सिहं की अपने साथियों के साथ मिलकर हत्या कर दी थी। इसके साथ ही उसने और भी कई वारदातों को अंजाम दिया है।

एसपी जशनदीप सिंह रंधावा के मुताबिक राकेश मोखरिया जब एक वारदात को अंजाम देने झज्जर बाईपास पर पहुंचा तब पुलिस ने मौके पर पहुंच कर उसे धर दबोचा।


ये भी पढ़े-अब बिहार में खैनी पर नहीं लगेगा प्रतिबंध, CM ने किया इंकार

पुलिस की जांच में पता लगा कि राकेश मोखरिया ने वर्ष 2005 में झज्जर में एक हत्या करने के बाद अपराध जगत में कदम रखा था। इस मामले में 6 साल तक जेल की हवा खाने के बाद उसने बाहर आकर शराब के ठेकेदारी का काम करना शुरु किया। गौरतलब है कि उसने गैंगस्टर रोहताश आसनिया के कहने पर वर्ष 2017 में बलबी सिंह की अपने साथियों के साथ मिलकर हत्या कर दी थी।

बता दें कि 2003 में राकेश मोखरिया ने हरियाणा राज्य के लिए गोल्ड मेडल जीता था। 

Todays Beets: