Saturday, August 18, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

‘राज्यमंत्री’ कंप्यूटर बाबा की बढ़ी महत्वाकांक्षा, अब विधान सभा टिकट की कर रहे मांग

अंग्वाल न्यूज डेस्क
‘राज्यमंत्री’ कंप्यूटर बाबा की बढ़ी महत्वाकांक्षा, अब विधान सभा टिकट की कर रहे मांग

भोपाल। मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार द्वारा 5 संतों को राज्यमंत्री का दर्जा दिए जाने के बाद बाबाओं की महत्वाकांक्षा बढ़ती जा रही है। राज्समंत्री का दर्जा पाने के बाद विवादों में रहे कम्प्यूटर बाबा अब विधानसभा चुनाव के लिए टिकट की मांग कर रहे हैं। बाबा ने कहा कि वे चाहते हैं कि विधान सभा चुनाव के लिए शिवराज सिंह ज्यादा से ज्यादा लोगों को टिकट दें और इनमें संतों को भी शामिल किया जाए ताकि वे भी समाज के साथ राज्य के विकास में अपना योगदान दे सकें। 

गौरतलब है कि शिवराज सिंह द्वारा 5 संतों कम्प्यूटर बाबा के अलावा नर्मदानंद, हरिहरानंद, भैय्यू महाराज और पंडित योगेंद्र महंत को राज्यमंत्री का दर्जा दे दिया था जिसके बाद काफी हंगामा हुआ था। इसी क्रम में सरकार ने नर्मदा नदी के लिए जन जागरुकता अभियान चलाने के लिए एक विशेष समिति भी गठित की है जिसके तहत इन बाबाओं को राज्यमंत्री का दर्जा दिया गया है।


ये भी पढ़ें - पूर्व सांसदों की पेंशन नहीं होगी बंद, सुप्रीम कोर्ट ने ‘लोक प्रहरी’ की याचिका की खारिज

यहां बता दें कि राज्यमंत्री का दर्जा मिलने के बाद पहली बार मंडला पहुंचे कम्प्यूटर बाबा ने कहा कि संत समुदाय कब तक समाज के भले के लिए किसी के पीछे घूमेगा। साधु-संत भी समाज के विकास में अपना योगदान देना चाहते हैं और इसके लिए वे कब तक दूसरों के भरोसे रहेंगे। ऐसे में उन्हें सक्रिय राजनीति में आने का मौका दिया जाए। कम्प्यूटर बाबा ने कहा कि वे मुख्यमंत्री से सिवनी के खड़ेश्वरी बाबा के लिए विधानसभा का टिकट मांगेंगे। 

Todays Beets: