Sunday, December 16, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

‘राज्यमंत्री’ कंप्यूटर बाबा की बढ़ी महत्वाकांक्षा, अब विधान सभा टिकट की कर रहे मांग

अंग्वाल न्यूज डेस्क
‘राज्यमंत्री’ कंप्यूटर बाबा की बढ़ी महत्वाकांक्षा, अब विधान सभा टिकट की कर रहे मांग

भोपाल। मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार द्वारा 5 संतों को राज्यमंत्री का दर्जा दिए जाने के बाद बाबाओं की महत्वाकांक्षा बढ़ती जा रही है। राज्समंत्री का दर्जा पाने के बाद विवादों में रहे कम्प्यूटर बाबा अब विधानसभा चुनाव के लिए टिकट की मांग कर रहे हैं। बाबा ने कहा कि वे चाहते हैं कि विधान सभा चुनाव के लिए शिवराज सिंह ज्यादा से ज्यादा लोगों को टिकट दें और इनमें संतों को भी शामिल किया जाए ताकि वे भी समाज के साथ राज्य के विकास में अपना योगदान दे सकें। 

गौरतलब है कि शिवराज सिंह द्वारा 5 संतों कम्प्यूटर बाबा के अलावा नर्मदानंद, हरिहरानंद, भैय्यू महाराज और पंडित योगेंद्र महंत को राज्यमंत्री का दर्जा दे दिया था जिसके बाद काफी हंगामा हुआ था। इसी क्रम में सरकार ने नर्मदा नदी के लिए जन जागरुकता अभियान चलाने के लिए एक विशेष समिति भी गठित की है जिसके तहत इन बाबाओं को राज्यमंत्री का दर्जा दिया गया है।


ये भी पढ़ें - पूर्व सांसदों की पेंशन नहीं होगी बंद, सुप्रीम कोर्ट ने ‘लोक प्रहरी’ की याचिका की खारिज

यहां बता दें कि राज्यमंत्री का दर्जा मिलने के बाद पहली बार मंडला पहुंचे कम्प्यूटर बाबा ने कहा कि संत समुदाय कब तक समाज के भले के लिए किसी के पीछे घूमेगा। साधु-संत भी समाज के विकास में अपना योगदान देना चाहते हैं और इसके लिए वे कब तक दूसरों के भरोसे रहेंगे। ऐसे में उन्हें सक्रिय राजनीति में आने का मौका दिया जाए। कम्प्यूटर बाबा ने कहा कि वे मुख्यमंत्री से सिवनी के खड़ेश्वरी बाबा के लिए विधानसभा का टिकट मांगेंगे। 

Todays Beets: