Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

 मुंगेर जिले के कुएं में मिला एके 47 का जखीरा, प्रशासन में मचा हड़कंप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
 मुंगेर जिले के कुएं में मिला एके 47 का जखीरा, प्रशासन में मचा हड़कंप

पटना। बिहार में कुछ दिनों पहले अपराधियों के द्वारा मुजफ्फरपुर के पूर्व मेयर की सरेशाम हत्या कर दी गई थी। पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ था कि गोलियां एके 47 राइफल से चलाई गई थी। ऐसे मंे शुक्रवार को मुंगेर जिले में एक कुएं से करीब आधा दर्जन एके 47 राइफल मिलने से पुलिस विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। पुलिस, राइफल की जांच करने के बाद इस बात का खुलासा करेगी कि यहां कैसे और क्यों रखी गई थी। 

गौरतलब है कि मुजफ्फरपुर के पूर्व मेयर की हत्या में एके 47 राइफल के इस्तेमाल पर राजद नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर हमला करते हुए कहा कि ‘‘मुजफ्फरपुर में पूर्व मेयर को दिन-दहाड़े एके-47 से मार दिया गया। नीतीशजी की नाकामियों से बिहार में एके-47 आम हथियार हो गया है।’’ गौर करने वाली बात है कि मुजफ्फरपुर के पूर्व मेयर को अपराधियों ने करीब 50 गोलियां मारी थीं जिसमें से 16 उनके शरीर से निकाली गई थी। 

ये भी पढ़ें - बिहार सरकार अपराधियों के आगे हुई नतमस्तक, पितृपक्ष के दौरान अपराध न करने की अपील 


यहां बता दें कि मुंगेर जिले में कुएं से एके 47 मिलने पर पुलिस अधीक्षक का कहना है कि कुछ दिनों पहले जबलपुर की आॅर्डिनेंस फैक्ट्री से कुछ सालों में 50 से ज्यादा एके 47 राइफलें गायब हो गई थीं और उनमें से अधिकतर बिहार पहुंचाई गई थी। पुलिस अधीक्षक रामबाबू ने कहा कि इस बात का खुलासा उस समय हुआ जब पिछले महीने 29 अगस्त को जमालपुर से इमरान नाम के अपराधी को गिरफ्तार किया था। उसने पूछताछ में बताया कि जबलपुर के किसी व्यक्ति ने उसे यह हथियार उपलब्ध कराए थे। उसकी निशानदेही पर ही तस्कर शमशेर को गिरफ्तार किया था। 

गौर करने वाली बात है कि इसके बाद 15 दिनों के अंदर मुंगेर के विभिन्न क्षेत्रों से 8 एके-47 बरामद की गई और अब तक 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिसमें कुछ महिलाएं भी हैं। बताया जा रहा है कि इस मामले में अंतरराष्ट्रीय तस्कर पुरुषोत्तम रजक को भी गिरफ्तार कर लिया है। 

 

Todays Beets: