Saturday, May 25, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

 मुंगेर जिले के कुएं में मिला एके 47 का जखीरा, प्रशासन में मचा हड़कंप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
 मुंगेर जिले के कुएं में मिला एके 47 का जखीरा, प्रशासन में मचा हड़कंप

पटना। बिहार में कुछ दिनों पहले अपराधियों के द्वारा मुजफ्फरपुर के पूर्व मेयर की सरेशाम हत्या कर दी गई थी। पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ था कि गोलियां एके 47 राइफल से चलाई गई थी। ऐसे मंे शुक्रवार को मुंगेर जिले में एक कुएं से करीब आधा दर्जन एके 47 राइफल मिलने से पुलिस विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। पुलिस, राइफल की जांच करने के बाद इस बात का खुलासा करेगी कि यहां कैसे और क्यों रखी गई थी। 

गौरतलब है कि मुजफ्फरपुर के पूर्व मेयर की हत्या में एके 47 राइफल के इस्तेमाल पर राजद नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर हमला करते हुए कहा कि ‘‘मुजफ्फरपुर में पूर्व मेयर को दिन-दहाड़े एके-47 से मार दिया गया। नीतीशजी की नाकामियों से बिहार में एके-47 आम हथियार हो गया है।’’ गौर करने वाली बात है कि मुजफ्फरपुर के पूर्व मेयर को अपराधियों ने करीब 50 गोलियां मारी थीं जिसमें से 16 उनके शरीर से निकाली गई थी। 

ये भी पढ़ें - बिहार सरकार अपराधियों के आगे हुई नतमस्तक, पितृपक्ष के दौरान अपराध न करने की अपील 


यहां बता दें कि मुंगेर जिले में कुएं से एके 47 मिलने पर पुलिस अधीक्षक का कहना है कि कुछ दिनों पहले जबलपुर की आॅर्डिनेंस फैक्ट्री से कुछ सालों में 50 से ज्यादा एके 47 राइफलें गायब हो गई थीं और उनमें से अधिकतर बिहार पहुंचाई गई थी। पुलिस अधीक्षक रामबाबू ने कहा कि इस बात का खुलासा उस समय हुआ जब पिछले महीने 29 अगस्त को जमालपुर से इमरान नाम के अपराधी को गिरफ्तार किया था। उसने पूछताछ में बताया कि जबलपुर के किसी व्यक्ति ने उसे यह हथियार उपलब्ध कराए थे। उसकी निशानदेही पर ही तस्कर शमशेर को गिरफ्तार किया था। 

गौर करने वाली बात है कि इसके बाद 15 दिनों के अंदर मुंगेर के विभिन्न क्षेत्रों से 8 एके-47 बरामद की गई और अब तक 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिसमें कुछ महिलाएं भी हैं। बताया जा रहा है कि इस मामले में अंतरराष्ट्रीय तस्कर पुरुषोत्तम रजक को भी गिरफ्तार कर लिया है। 

 

Todays Beets: