Friday, April 19, 2019

Breaking News

   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||

कांग्रेसी सांसद शशि थरूर मंदिर में तुलाभरम पूजा के दौरान गिरे , सिर पर गंभीर चोट आए 6 टांके

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कांग्रेसी सांसद शशि थरूर मंदिर में तुलाभरम पूजा के दौरान गिरे , सिर पर गंभीर चोट आए 6 टांके

नई दिल्ली । कांग्रेसी नेता और केरल के तिरुवनंतपुरम से मौजूदा सांसद शशि थरूर चोटिल हो गए हैं। उन्हें चोट मंदिर में तुलाभरम पूजा के दौरान लगी, जब वह पूजा के दौरान गिर गए। इस घटना में उनके सिर में गंभीर चोट आई, जिन्हें तिरुवनंतपुरम के एक अस्पताल में दाखिल कराया गया है। उन्हें माथे में आई गहरी चोट का डॉक्टरों ने इलाज किया है। उनके माथे में 6 टाकें आए हैं। असल में थरूर एक बार फिर से केरल के तिरुवनंतपुरम सीट से कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा प्रत्याशी हैं। वह इस सीट से 2 बार सांसद चुने गए हैं। इस बार उनका मुकाबला भाजपा नेता और मिजोरम के पूर्व राज्यपाल कुम्मानेम राजशेखरन और सीपीआई विधायक और राज्य के पूर्व मंत्री सी. दिवाकरन से है ।

बता दें कि तिरुवनंतपुरम के एक मंदिर में शशि थरूर के खास पूजा तुलाभरम करने का कार्यक्रम था । पूजा के दौरान वह अचानक गिर गए, जिसके चलते उनके सिर पर काफी चोट आई । एकाएक खून की धार बहने से उनके कपड़े खून में सन गए । आनन फानन में उन्हें स्थानीय जनरल अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां डॉक्टरों ने सिर में लगी चोट पर 6 टाकें लगाए हैं। हालांकि खून काफी बह जाने के चलते उन्हें अभी अस्पताल में ही रखा गया है।

विदित हो कि तुलाभरम ऐसी पूजा होती है जो केरल के कुछ गिने चुने मंदिरों में ही होती है। इस पूजा में पूजा करने वाले शख्स को अपने वजन के बराबर का चढ़ावा देवी को अर्पित करना होता है । ऐसे में पूजा करने वाले शख्स को पहले उसके वजन के बराबर के सामान से तोला जाता है।


 

 

 

 

Todays Beets: