Friday, August 18, 2017

Breaking News

   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||   SC में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए याचिका दायर, कोर्ट ने दिया केंद्र को नोटिस    ||   राज्यसभा में सिब्बल बोले- छप रहे 1 नंबर के दो नोट, सदी का सबसे बड़ा घोटाला    ||   नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का आज होगा विस्तार, शपथ ले सकते हैं 16 मंत्री    ||   सपा को तगड़ा झटका, बुक्कल नवाब समेत 2 MLC का इस्तीफा, की मोदी-योगी की तारीफ    ||   नगालैंड: शुरहोजेली ने विश्वासमत से पहले ही मानी हार, ज़ेलियांग ने ली CM पद की शपथ    ||   बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा- पार्टी कहेगी तो दे दूंगा इस्तीफा    ||   डोकलाम विवाद: भारतीय सीमा के पास खूब हथियार जमा कर रहा है चीन!    ||   रवि शास्त्री की चाहत- सचिन को मिले भारतीय बल्लेबाजी का जिम्मा    ||

शशिकला को जेल में VIP ट्रीटमेंट दिए जाने का खुलासा करने वाली DIG जेल डी रूपा का तबादला

अंग्वाल न्यूज डेस्क
शशिकला को जेल में VIP ट्रीटमेंट दिए जाने का खुलासा करने वाली DIG जेल डी रूपा का तबादला

बेंगलुरू । कर्नाटक की केंद्रीय जेल में अनियमितताओं को उजागर करने और जेल में होने वाली गैरकानून हरकतों का खुलासा करने वाली डीआईजी (जेल) रूपा का सोमवार को तबादला कर दिया गया है। डीआईजी रूपा ने जेल में एआईएडीएमके प्रमुख शशिकला को मिल रहे वीवीआईपी ट्रीटमेंट का खुलासा किया था, जिसके बाद वह सुर्खियों में आई थीं। कर्नाटक सरकार की ओर सोमवार को जारी एक आदेश में रूपा का तबादला यातायात विभाग में तत्काल प्रभाव से कर दिया गया है। DIG रूपा के साथ डीजी जेल सत्यनारायण राव का भी ट्रांसफर कर दिया गया है, जिनपर रूपा ने अनियमिताताओं में शामिल होने का आरोप लगाया था। रूपा को डीआईजी जेल से हटाते हुए ट्रैफिक विभाग का आईजी बना दिया गया है। साथ ही उन्हें यातायात और रेड सेफ्टी के कमिश्नर का प्रभार भी दिया गया है।

ये भी पढ़ें- अब से एक ही दिन में होगी 10वीं और 12वीं की पीक्षाएं, CBSE ने किए बड़े बदलाव

हालांकि रूपा को डीआईजी जेल से आईजी यातायाता बनाकर उनका प्रमोशन किया गया है लेकिन सियासी गलियारे में इसे मामले से हटाने के तौर पर देखा जा रहा है। इस पूरे घटनाक्रम पर जनता दल (सेक्यूलर) के नेता एचडी कुमार स्वामी का कहना है कि वह जानते थे कि राज्य सरकार इस तरह का निर्णय लेगी। सरकार गलत लोगों के काम और उनकी अनैतिक गतिविधियों का समर्थन कर रही है। यह सरकार गलत काम करने वाले लोगों को बचाना चाहती है। सरकार सच और अनैतिक गतिविधियों को सामने नहीं आ देना चाहती। सरकार अनैतिक काम करने वाले लोगों को बचाने में जुटी है। सरकार के इन फैसलों से ऐसे लोगों का साहस बढ़ेगा। 

ये भी पढ़ें- बेटियों की जिद के आगे झुकी दिल्ली सरकार, स्कूलों के समायोजन के आदेश लिए वापस

बता दें कि हाल में डीआईजी डी रूपा ने एक रिपोर्ट में खुलासा किया था कि उन्होंने 2 करोड़ की रिश्वत का एक मामला हाल में पकड़ा था, जिसमें शशिकला की ओर से दो करोड़ रुपये की रिश्वत जेल अधिकारियों को दी थी। इसके बदले शशिकला के लिए जेल मे एक अलग किचन देते हुए उनके लिए कई खास व्यवस्थाएं की गई थीं। 

ये भी पढ़ें- बीटिंंग रिट्रीट के दौरान गिरा पाकिस्तानी रेंजर, देखें कैसे वायरल हो रहा है यह वीडियो

वहीं इस मामले में डीजी जेल सत्यनारायण का कहना है कि यदि डीआईजी ने जेल के अंदर ऐसा कुछ देखा था तो इसकी चर्चा मुझसे करतीं। यदि उन्हें लगता है कि मैंने कुछ किया तो मैं किसी भी जांच के लिए तैयार हूं। हालांकि इस दौरान  सत्यनारायण राव ने बताया था कि कर्नाटक प्रिसिजन मैनुएल के रूल 584 के तहत ही शशिकला को छूट दी गई थी। बहरहाल, इस पूरे मामले के उजागर होने पर अब कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने आदेश दिए हैं कि सेंट्रल जेल में जारी अनियमितताओं के इस मामले में एक हाई लेवल कमेटी जांच करेगी। दोषियों को इस मामले में छोड़ा नहीं जाएगा। 

ये भी पढ़ें- चीन ने दिखाई अपनी ताकत, तिब्बत के पठार पर किया युद्धाभ्यास

Todays Beets: