Tuesday, December 11, 2018

Breaking News

   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||    दिल्ली: TDP नेता वाईएस चौधरी को HC से राहत, गिरफ्तारी पर रोक     ||    पूर्व क्रिकेटर अजहर तेलंगाना कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष बनाए गए     ||   किसानों को कांग्रेस ने मजबूर और बीजेपी ने मजबूत बनाया: PM मोदी     ||

यूपी की शिक्षा व्यवस्था में सुधार की कवायद तेज, कक्षा के समय बाहर दिखने वाले शिक्षक होंगे बर्खास्त

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यूपी की शिक्षा व्यवस्था में सुधार की कवायद तेज, कक्षा के समय बाहर दिखने वाले शिक्षक होंगे बर्खास्त

लखनऊ। योगी सरकार प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था को सुधारने के प्रयास तेज कर दिए हैं। इसके लिए शिक्षकों पर सरकार सख्त हो गई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि स्कूल में कक्षा के समय यदि कोई शिक्षक किसी दफ्तर में दिखे तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सीएम ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जरूरत पड़ने पर ऐसे शिक्षकों को बर्खास्त भी किया जाए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखनाथ मंदिर में प्राथमिक व माध्यमिक शिक्षा और जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक कर यह निर्देश दिए हैं। 

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने स्कूलों में शिक्षकों की उपस्थिति, पढ़ाई की गुणवत्ता और इमारतों की हालत के बारे में भी अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। योगी आदित्यनाथ ने साफ तौर पर कहा है कि जर्जर भवनों में बच्चों की कक्षा नहीं लगाई जाए और स्कूलों में पानी, शौचालय और सफाई की सही व्यवस्था होनी चाहिए। 


ये भी पढ़ें - देश के कई इलाकों में अंधेरा छाने का डर, 122 बिजली घरों में कोयले की भारी कमी 

यहां बता दें कि सीएम ने कायाकल्प योजना के तहत सांसद, विधायक और सीआरएस की मदद से स्कूलों की दशा बदलने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि स्कूलों में छात्रों और शिक्षकों का अनुपात देखते हुए ही समायोजन किया जाए। सीएम ने बैठक के दौरान यह भी कहा कि दागी विद्यालयों को परीक्षा का केन्द्र न बनाया जाए। नकलविहीन परीक्षा के लिए सभी केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था की जाए। 

Todays Beets: