Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

यूपी की शिक्षा व्यवस्था में सुधार की कवायद तेज, कक्षा के समय बाहर दिखने वाले शिक्षक होंगे बर्खास्त

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यूपी की शिक्षा व्यवस्था में सुधार की कवायद तेज, कक्षा के समय बाहर दिखने वाले शिक्षक होंगे बर्खास्त

लखनऊ। योगी सरकार प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था को सुधारने के प्रयास तेज कर दिए हैं। इसके लिए शिक्षकों पर सरकार सख्त हो गई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि स्कूल में कक्षा के समय यदि कोई शिक्षक किसी दफ्तर में दिखे तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सीएम ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जरूरत पड़ने पर ऐसे शिक्षकों को बर्खास्त भी किया जाए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखनाथ मंदिर में प्राथमिक व माध्यमिक शिक्षा और जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक कर यह निर्देश दिए हैं। 

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने स्कूलों में शिक्षकों की उपस्थिति, पढ़ाई की गुणवत्ता और इमारतों की हालत के बारे में भी अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। योगी आदित्यनाथ ने साफ तौर पर कहा है कि जर्जर भवनों में बच्चों की कक्षा नहीं लगाई जाए और स्कूलों में पानी, शौचालय और सफाई की सही व्यवस्था होनी चाहिए। 


ये भी पढ़ें - देश के कई इलाकों में अंधेरा छाने का डर, 122 बिजली घरों में कोयले की भारी कमी 

यहां बता दें कि सीएम ने कायाकल्प योजना के तहत सांसद, विधायक और सीआरएस की मदद से स्कूलों की दशा बदलने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि स्कूलों में छात्रों और शिक्षकों का अनुपात देखते हुए ही समायोजन किया जाए। सीएम ने बैठक के दौरान यह भी कहा कि दागी विद्यालयों को परीक्षा का केन्द्र न बनाया जाए। नकलविहीन परीक्षा के लिए सभी केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था की जाए। 

Todays Beets: