Thursday, October 18, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

उन्नाव गैंगरेप कांड- आरोपी विधायक के भाई समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया, पीड़िता बोली - विधायक को गिरफ्तार करो

अंग्वाल संवाददाता
उन्नाव गैंगरेप कांड- आरोपी विधायक के भाई समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया, पीड़िता बोली - विधायक को गिरफ्तार करो

लखनऊ । हाल के दिनों में यूपी के बहुचर्चित उन्नाव गैंगरेप केस में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर के भाई सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि इस पूरे मामले में अभी भी पीड़िता का कहना है कि भाजपा विधायक की गिरफ्तारी होनी चाहिए, उसी ने उसकी जिंदगी को नर्क बनाया है। उसकी भाई की गिरफ्तारी से क्या होगा। विधायक को फांसी की सजा होनी चाहिए। इन लोगों ने ही मेरे पिता की हत्या की है। बहरहाल, इस पूरे मामले को लेकर सूबे की राजनीति गर्मा गई है। सपा-बसपा के नेता इसे मुद्दा बनाते हुए आगामी चुनावों के मद्देनजर इसे भुनाने की जुगत में लगे हुए हैं।बता दें कि पीड़िता ने जानकारी दी थी कि गत वर्ष 4 जून को भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर और उनके साथियों ने उसके साथ सामुहिक दुष्कर्म किया है। एक महिला उसे विधायक कुलदीप के पास लेकर गई थी। विधायक और उसके लोगों ने उसके साथ न केवल दुष्कर्म किया बल्कि विरोध करने पर परिजनों को मार डालने की धमकी दी थी। घटना के बाद जब महिला पुलिस में इस मामले की शिकायत लिखवाने गई तो थाने में एफआईआर नहीं लिखी गई। बाद में उसकी तहरीर भी बदल दी गई थी। इसके बाद उसके पिता की जेल में मौत हो गई थी। पुलिस सूत्रों का कहना है कि भाजपा विधायक सेंगर पर गैंगरेप का आरोप लगाने वाली माखी थाना के अंतर्गत आने वाले एक गांव की निवासी 18 वर्षीय लड़की के पिता को रविवार रात को जेल में पेट दर्द के साथ खून की उल्टियां शुरू हुई थीं। इस पर उसे तुरंत जिला अस्पताल के एमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान तड़के लगभग तीन बजे उसकी मौत हो गई। 50 वर्षीय इस मृतक ने परिजनों ने गैंगरेप के आरोपी बांगरमऊ से भाजपा विधायक सेंगर पर जेल में हत्या कराने का आरोप लगाया है। आरोप हैं कि गैंगरेप का मुकदमा वापस ना लेने पर 4 अप्रैल को विधायक के भाई अतुल सिंह ने पीड़िता के पिता को मारापीटा था। पुलिस ने इसका मुकदमा दर्ज करने के बजाय उसे ही जेल भेज दिया था।


Todays Beets: