Thursday, January 18, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

उत्तर प्रदेश में शादी करें और योगी सरकार से पाएं 20 हजार रुपये और एक स्मार्टफोन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तर प्रदेश में शादी करें और योगी सरकार से पाएं 20 हजार रुपये और एक स्मार्टफोन

लखनऊ।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने प्रदेश में गरीब लड़कियों की शादी को लेकर एक अहम फैसला किया है। सरकार ने इनकी शादी करवाने का फैसला किया है। इसके लिए राज्य सरकार के खर्चे पर सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इसके तहत अब तक इस योजना के तहत दी जाने वाली राशि 20 हजार रुपये में कोई छेड़छाड़ नहीं की जाएगी और उसे कन्या के खाते में जमा कर दिया जाएगा। इसके साथ ही एक स्मार्टफोन का उपहार भी उसे मिलेगा। इस तरह के सामूहिक विवाह में न सिर्फ सांसद और विधायक शामिल होंगे, बल्कि समाज के अन्य प्रतिष्ठित लोगों को भी आमंत्रित किया जाएगा।

समाज कल्याण विभाग ने इसका प्रस्ताव तैयार कर शासन को भेज दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विवाह कराने की जिम्मेदारी डीएम के जिम्मे होगी। जानकारी के अनुसार, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के प्रथम चरण में 71400 लड़कियों की शादी कराई जाएगी।  पांच से अधिक विवाह होने पर यह समारोह क्षेत्र पंचायत, जिला पंचायत, नगर निगम और नगरपालिका परिषद के स्तर पर आयोजित किया जाएगा। आयोजन को सुचारू रूप से संपन्न कराने के लिए जिलाधिकारी एक विवाह कार्यक्रम समिति का गठन करेंगे।

बर्तन और कपड़े भी दिए जाएंगे

शादी के लिए नकद राशि के साथ ही बर्तन और कपड़े भी कन्या को दिए जाएंगे। सरकार शादी में 20 हजार की जगह 35 हजार रुपये खर्च करेगी। इसमें 20 हजार रुपये कन्या के खाते में जमा कराए जाएंगे, जबकि 10 हजार रुपये से कपड़े, बिछिया, पायल, सात बर्तन और स्मार्ट फोन खरीदा जाएगा। बाकी 5 हजार रुपये शादी की व्यवस्था पर खर्च किए जाएंगे।

पिछड़ा वर्ग को मिलेगा लाभ


इस योजना का लाभ अल्पसंख्यकों को भी मिलेगा। इसके लिए योजना में अनसूचित जाति-जनजाति 30 प्रतिशत, अन्य पिछड़ा वर्ग 35, सामान्य वर्ग 20 और अल्पसंख्यक वर्ग की 15 प्रतिशत भागीदारी होगी।

अन्य संस्थाएं भी दे सकती हैं उपहार

योजना के तहत होने वाले विवाह में अगर कोई संस्था उपहार देना चाहती है, तो दे सकती है। इसके लिए उसे पहले से इस बारे में सूचना देनी होगी। इसके साथ ही उपहाार देने वाले का नाम, उपहार की संख्या, अनुमानित मूल्य आदि बताना होगा।

 

 

Todays Beets: