Friday, April 26, 2019

Breaking News

   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||

प्रशांत किशोर पर हुए हमले के बाद कुशवाहा का सीएम पर हमला, कहा- इतनी फजीहत कराकर जीत भी गए तो क्या प्रधानमंत्री बन जाएंगे

अंग्वाल न्यूज डेस्क
प्रशांत किशोर पर हुए हमले के बाद कुशवाहा का सीएम पर हमला, कहा- इतनी फजीहत कराकर जीत भी गए तो क्या प्रधानमंत्री बन जाएंगे

पटना। बिहार की राजनीति में मचा घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। देर रात जदयू के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर पर पटना यूनिवर्सिटी के छात्रों के द्वारा किए गए हमले के बाद राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने राज्य सरकार पर को आड़े हाथों लिया है। कुशवाहा ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि ‘‘आने वाली पीढ़ी कैसे विश्वास करेगी कि आप भी उसी विश्वविद्यालय के छात्र रहे हैं।’’ कुशवाहा ने आगे लिखा, “जनाब! छात्रसंघ चुनाव को प्रतिष्ठा का प्रश्न बनाकर पुलिस, प्रशासन, विश्वविद्यालय सबको दंडवत करा दिया। इतनी फजीहत कराकर जीत भी गए तो क्या प्रधानमंत्री बन जाएंगे।”

यहां बता दें कि उपेन्द्र कुशवाहा ने अपने दूसरे ट्वीट मंे कहा कि छात्रसंघ का चुनाव छात्रों का है इसे प्रदेश की राजनीति से दूर रखा जाए। छात्रों के बीच वैचारिक द्वंद्व को आपराधिक रंग देना ठीक नहीं। लिंगदोह रिपोर्ट की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। आपको बता दें कि देर रात जदयू के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर यूनिवर्सिटी के कुलपति से मिलने पहुंचे थे। वे जब बाहर निकल रहे थे एबीवीपी के छात्रों ने उनकी गाड़ी पर हमला कर दिया था। हालांकि इस हमले में उन्हें कोई नुकसान नहीं हुआ था। 

ये भी पढ़ें - राज्य में फिल्म शूटिंग को बढ़ावा देने के लिए पेशेवर रवैया अपनाएगी सरकार- त्रिवेन्द्र रावत 


गौर करने वाली बात है कि इस घटना के बाद भाजपा नेताओं ने प्रशांत किशोर के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए उन पर छात्रसंघ चुनाव में हस्तक्षेप करने का आरोप लगाया था। इसके बाद अब उपेन्द्र कुशवाहा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला करते हुए कहा कि ‘‘आने वाली पीढ़ी कैसे विश्वास करेगी कि आप भी उसी विश्वविद्यालय के छात्र रहे हैं।’’

  

Todays Beets: