Sunday, September 24, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

अपने दौरों पर खास इंतजाम से योगी आदित्यनाथ नाराज, अधिकारियों को विशेष प्रबंध न करने की हिदायत दी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अपने दौरों पर खास इंतजाम से योगी आदित्यनाथ नाराज, अधिकारियों को विशेष प्रबंध न करने की हिदायत दी

लखनऊ।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सादगी पसंद है, लेकिन उनके दौरों पर प्रशासनिक अधिकारी खास इंतजाम करते हैं, जिसे लेकर योगी ने अपनी नाराजगी जताई है। उन्होंने एक पत्र के जरिए अपने निजी सचिव, जिला न्यायाधीश, डिविजनल कमिश्नर और आईपीएस अधिकारियों को वीवीआईपी व्यवस्था के लिए फटकार लगाई है। मुख्यमंत्री ने अपने पत्र में अधिकारियों सख्त हिदायत देते हुए लिखा कि उनके किसी भी दौरे के लिए खास इंतजाम न किए जाएं।

ये भी पढ़ें— यूपी में कांवड़ यात्रा के दौरान लाउडस्पीकर बजाने वालों को कोई नहीं रोकेगा - योगी आदित्यनाथ

पत्र में देवरिया व गोरखपुर के शहीद जवानों के परिवार से मुलाकात के दौरान किए गए इंतजामों का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने रोष जताया और निर्देश दिए हैं कि भविष्य में इसे दोहराया ना जाए। जानकारी के अनुसार इससे पहले भी मुख्यमंत्री विशेष इंतजाम न करने को लेकर निर्देश दे चुके हैं, लेकिन अधिकारी बार—बार यह गलती दोहरा देते हैं।  


ये भी पढ़ें— सुस्त अफसरों पर योगी सरकार का शिकंजा, 50 पार अफसरों को देगी अनिवार्य रिटायरमेंट

बता दें कि हाल ही में कश्मीर में शहीद बीएसएफ हेड कांस्टेबल प्रेम सागर के घर मुख्यमंत्री यात्रा से पहले विशेष इंतजाम को लेकर राज्य सरकार की कड़ी आलोचना हुई थी। मुख्यमंत्री के जाने पहले अधिकारियों ने शहीद के घर एसी, सोफा, रेड कार्पेट, केसरिया तौलिया जैसे खास इंतजाम किए थे। मुख्यमंत्री की परिवार से मुलाकात के बाद सभी चीजों को वहां से हटा लिया गया था।

 

Todays Beets: