Thursday, February 22, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

मैं पहले राम भक्त हूं फिर किसी राज्य का मुख्यमंत्री - योगी आदित्यनाथ

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मैं पहले राम भक्त हूं फिर किसी राज्य का मुख्यमंत्री - योगी आदित्यनाथ

अयोध्या । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को एक बार फिर खुद को रामभक्त करार दिया। उन्होंने कहा कि मैं पहले एक राम भक्त हूं इसके बाद किसी राज्य का मुख्यमंत्री। इस दौरान उन्होंने राम मंदिर निर्माण पर कहा कि सकारात्मक राजनीति से ही राम मंदिर मुद्दे का हल निकलेगा। योगी ने कहा- अयोध्या देश की पहचान है, मैं अयोध्या आता रहा हूं और आगे भी आता रहूंगा। उन्होंने कहा कि थाईलैंड के राजा भगवान राम के वंशजों में से एक हैं, दूसरे देश भी भगवान राम को मानते हैं। वहीं विजय दिवस के मौके पर उन्होंने कहा कि अगर इस बार भारत पाकिस्तान के बीच कोई भी युद्ध हुआ तो इस बार पाकिस्तान के तीन टुकड़े हो जाएंगे। 

ये भी पढ़ें- डोकलाम विवाद पर भारत ने बनाई जोरदार रणनीति, कहा-पीछे तो नहीं हटेंगे

राम मंदिर आंदोलन के अगुवा रहे महंत परमहंस की 14वीं पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि देंने अयोध्या पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर राम मंदिर पर बात की। उन्होंने कहा कि भारत का बच्चा-बच्चा रामलीला के बारे में जानता है। प्रतिवर्ष लोग रामलीला देखते हैं। हर धर्म का व्यक्ति भगवान राम के प्रति अपने प्यार को दर्शाता है। इस सब के बीच उन्होंने दोहराया कि वह बार-बार यहां इसलिए आते हैं क्योंकि वह पहले राम भक्त है फिर मुख्यमंत्री। राममंदिर निर्माण से जुड़ा सवाल पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि सकारात्मक राजनीति से ही राम मंदिर मुद्दे का हल निकलेगा। 


ये भी पढ़ें- टेरर फंडिंग पर एक और करारी चोट, श्रीनगर से शब्बीर शाह मनी लॉड्रिंग मामले में गिरफ्तार

इसी क्रम में बुधवार को विजय दिवस के मौके पर योगी आदित्यनाथ ने कहा, 26 जुलाई 1999 को सेना ने पाक को पीछे हटने को मजबूर किया था। दरअसल पाकिस्तान को भयपर निशाना साधते हुए कहा हो  गया था।कि 1971 में उसके दो टुकड़े किया था। अब कहीं भारत पाकिस्तान के बीच युद्ध हुआ तो उसके तीन टुकड़े ना हो जाए, इसलिए वह गिड़गिड़ते हुए अमेरिका के पास गया है। इससे पहले मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा। उन शहीदों को याद कर अपने श्रद्धा-सुमन अर्पण करने का है, जो हंसते-हंसते मातृभूमि की रक्षा करते हुए वीरगति को प्राप्त हुए।

Todays Beets: