Monday, October 23, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

मैं पहले राम भक्त हूं फिर किसी राज्य का मुख्यमंत्री - योगी आदित्यनाथ

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मैं पहले राम भक्त हूं फिर किसी राज्य का मुख्यमंत्री - योगी आदित्यनाथ

अयोध्या । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को एक बार फिर खुद को रामभक्त करार दिया। उन्होंने कहा कि मैं पहले एक राम भक्त हूं इसके बाद किसी राज्य का मुख्यमंत्री। इस दौरान उन्होंने राम मंदिर निर्माण पर कहा कि सकारात्मक राजनीति से ही राम मंदिर मुद्दे का हल निकलेगा। योगी ने कहा- अयोध्या देश की पहचान है, मैं अयोध्या आता रहा हूं और आगे भी आता रहूंगा। उन्होंने कहा कि थाईलैंड के राजा भगवान राम के वंशजों में से एक हैं, दूसरे देश भी भगवान राम को मानते हैं। वहीं विजय दिवस के मौके पर उन्होंने कहा कि अगर इस बार भारत पाकिस्तान के बीच कोई भी युद्ध हुआ तो इस बार पाकिस्तान के तीन टुकड़े हो जाएंगे। 

ये भी पढ़ें- डोकलाम विवाद पर भारत ने बनाई जोरदार रणनीति, कहा-पीछे तो नहीं हटेंगे

राम मंदिर आंदोलन के अगुवा रहे महंत परमहंस की 14वीं पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि देंने अयोध्या पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर राम मंदिर पर बात की। उन्होंने कहा कि भारत का बच्चा-बच्चा रामलीला के बारे में जानता है। प्रतिवर्ष लोग रामलीला देखते हैं। हर धर्म का व्यक्ति भगवान राम के प्रति अपने प्यार को दर्शाता है। इस सब के बीच उन्होंने दोहराया कि वह बार-बार यहां इसलिए आते हैं क्योंकि वह पहले राम भक्त है फिर मुख्यमंत्री। राममंदिर निर्माण से जुड़ा सवाल पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि सकारात्मक राजनीति से ही राम मंदिर मुद्दे का हल निकलेगा। 


ये भी पढ़ें- टेरर फंडिंग पर एक और करारी चोट, श्रीनगर से शब्बीर शाह मनी लॉड्रिंग मामले में गिरफ्तार

इसी क्रम में बुधवार को विजय दिवस के मौके पर योगी आदित्यनाथ ने कहा, 26 जुलाई 1999 को सेना ने पाक को पीछे हटने को मजबूर किया था। दरअसल पाकिस्तान को भयपर निशाना साधते हुए कहा हो  गया था।कि 1971 में उसके दो टुकड़े किया था। अब कहीं भारत पाकिस्तान के बीच युद्ध हुआ तो उसके तीन टुकड़े ना हो जाए, इसलिए वह गिड़गिड़ते हुए अमेरिका के पास गया है। इससे पहले मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा। उन शहीदों को याद कर अपने श्रद्धा-सुमन अर्पण करने का है, जो हंसते-हंसते मातृभूमि की रक्षा करते हुए वीरगति को प्राप्त हुए।

Todays Beets: