Monday, December 17, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

गूगल बंद कर रहा है अपनी एक खास सेवा , मार्च 2019 के बाद नहीं मिलेगी इसकी सुविधा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
गूगल बंद कर रहा है अपनी एक खास सेवा , मार्च 2019 के बाद नहीं मिलेगी इसकी सुविधा

नई दिल्ली । आने वाले दिनों में गूगल अपने एक सेवाओं को बंद करने जा रहा है। यह सेवा कुछ और नहीं बल्कि 2016 में गूगल द्वारा लांच किए गए मैसेंजर एप Allo है। गूगल अपने इस एप की सेवाएं बंद करने जा रही है। असल में गूगल को अपने इस एप से जो आशाएं थी उनपर यह एप खरा नहीं उतर सका। गूगल ने अपने संदेश में कहा है कि मार्च 2019 में यह एप बंद कर दिया जाएगा। इसलिए जो लोग इस मैसेंजर एप का इस्तेमाल कर रहे थे वो अपनी चेट का सारा डाटा एप से एक्सपोर्ट कर लें । इसके साथ ही गूगल ने कहा कि हमने इस एप को लॉंच करने के बाद कई नई चीजों को सीखा है। 

बता दें कि गूगल ने अपने इस एप को सितंबर 2016 में बड़े जोर शोर के साथ लॉंच किया था , लेकिन अन्य मैसेंजर की तरह Allo ज्यादा सुर्खियां नहीं बटोर पाया, इतना ही नहीं लोगों ने भी इस पर ज्यादा रुचि नहीं दिखाई। इसका एक कारण यह भी रहा कि इसमें एंड यू एंड एनक्रिप्शन नहीं था, साथ ही इसमें व्हाट्सएप जैसी वीडियो कॉलिंग के फीचर भी नहीं थे। 


व्हाट्सएप में वीडियो और ऑडियो कॉलिंग सुविधा होने के चलते उसने जितनी सुर्खियां बंटोरी उतना गूगल का यह एप नहीं बंटोर सका। इस सब के चलते कंपनी ने इस साल अप्रैल से इस एप पर निवेश करना बंद कर दिया था । हालांकि कंपनी ने बीच बीच में इसमें सुधार की भी कई कोशिशें की लेकिन वह अन्य मैसेंजर को मात देने में नाकामयाब साबित हुआ। इस सब का नतीजा यह रहा कि अब जाकर गूगल ने अपने इस एप को बंद करना ऐलान कर दिया है। 

Todays Beets: