Saturday, September 23, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

जरा सावधान! चीनी मोबाइल कंपनियां कर रही है आपका डाटा चोरी 

अंग्वाल संवाददाता
जरा सावधान! चीनी मोबाइल कंपनियां कर रही है आपका डाटा चोरी 

नई दिल्ली। चीनी कंपनियों द्वारा मोबाइल डाटा चोरी करने का मामला सामने आ रहा है। चीन के डाटा चोरी करने की रिपोर्ट मिलने के बाद भारत सरकार ने सुरक्षा के लिए सख्त कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। केंद्र ग्राहकों का डाटा चुराने और उसके अनुचित इस्तेमाल के संदेह में 21 मोबाइल कंपनियों को सरकार की तरफ से नोटिस जारी किए गए हैं। इसमें vivo, oppo, ximoai, gionee समेत ज्यादातर चीनी कंपनियां शामिल हैं। सूचना प्रोद्योगिकी मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया, इन कंपनियों से सरकार ने 28 अगस्त तक जवाब दाखिल करने के लिए कहा है। कंपनियों से नोटिस के जरिए ग्राहकों के डाटा को सुरक्षित रखने के लिए अपनाई गई प्रक्रियाओं के बारे में पूछा गया है। साथ ही यह भी पूछा गया है कि क्या डाटा को देश से बाहर भेजा जाता है या अन्य व्यावसायिक कार्यों में इस्तेमाल तो नहीं हो रहा है। 

यह भी पढ़े- सरकार ने लॉन्च किया GST finder app, अब नहीं खा सकेंगे धोखा

अधिकारी के अनुसार, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ग्राहकों के डाटा लीक होने की रिपोर्ट मिली है। इसी के चलते सरकार ने सबसे पहले मोबाइल फोन में लॉड सॉफ्टवेयर और एप की जांच कराने का फैसला किया है। कंपनियों के जवाब के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। 


यह भी पढ़े- खरीदें Renault की यह कार और पाए 2 लाख रुपये तक का बंपर डिस्काउंट

सरकार लगाएगी भारी जुर्माना 

सरकार को संदेह है कि कंपनियां ग्राहकों की कांटैक्ट लिस्ट और अन्य प्रकार की निजी सूचनाएं चुरा रही हैं। अगर कंपनियां दोषी पाएगी तो आईटी एक्ट की धारा 43 ए के तहत उन पर भारी जुर्माना लगेगा।  

Todays Beets: