Monday, December 17, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

सफर के दौरान महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करेगी ‘राइडनेस्ट’ एप

अंग्वाल संवाददाता
 सफर के दौरान महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करेगी ‘राइडनेस्ट’ एप

नई दिल्ली। महिलाओं के सफर को सुलभ और सुरक्षित बनाने के लिए एक नया एप लॉन्च किया गया है। दिल्ली टेक्नोजिकल यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र अनुज धवन ने इस एप को बनाया है। इस एप का नाम राइडनेस्ट रखा गया है। अनुज का कहना है कि यह एप महिलाओं को एक समूह में रहने की ताकत प्रदान करती है, चाहे वे यात्रा के दौरान हो, फिल्म देखने, शॉपिंग करने या किसी प्रोग्राम में शामिल होना हो। इस प्रकार महिलाएं आपस में जुड़े रहकर अपनी सुरक्षा सुनिश्चित कर सकती है।

यह भी पढ़े- Facebook live में जल्द ही एड होंगे कुछ नए फीचर, पढ़े पूरी रिपोर्ट...

 


 

इसी के साथ अनुज ने बताया कि यह कोई राइड-शेयरिंग एप नहीं है, बल्कि यह जान-पहचान के लोगों के बीच जानकारी अपलब्ध कराने की सुविधा प्रदान करती है। उन्होंने बताया कि उन्हें यह एप बनाने की प्रेरणा वर्ष 2012 में हुए निर्भया कांड के से मिली , जिसमें महिलाओं के रात में सफर करने के दौरान सुरक्षा को लेकर बेहद भयानक मामला सामने आया था।

यह भी पढ़े- Whatsapp में आया नया कलरफुल टेक्स्ट फीचर, यूजर्स का फोटो और वीडियो शेयर करना होगा और भी मजेदार

बता दें कि यह गूगल प्ले स्टोर और एप्पल स्टोर पर फ्री में उपलब्ध इस एप में अमरजेंसी के लिए एसओएस बटन है, जिसे दो लोगों को एक मैसेज के जरिए सूचित किया जा सकता है। इससे पीड़िता अपने घर पर आसानी से परेशानी के दौरान मैसेज पहुंचा सकती है।    

Todays Beets: