Saturday, May 26, 2018

Breaking News

   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||

Google और Apple ने अपने ऑनलाइन स्टोर से हटाए 300 से अधिक ट्रेडिंग एप, जानें क्या है कारण

अंग्वाल संवाददाता
Google और Apple ने अपने ऑनलाइन स्टोर से हटाए 300 से अधिक ट्रेडिंग एप, जानें क्या है कारण

कैनबरा। ऑस्ट्रेलियाई सिक्योरिटीज एंड इंवेस्टमेंट कमिशन (एएसआईसी) के दखल के बाद गूगल और एप्पल ने 330 से ज्यादा स्देंहपूर्ण वितीय करोबार करने वाली एप को अपने प्ले स्टोर से हटा दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक, एएसआईसी ने पाया है कि कई एप बिना लाइसेंस लिए इनका संचालन कर रहे थी। जो बाइनरी ट्रेडिंग पर ध्यान केंद्रित करते हैं। प्रकाशित रिपोर्ट में बताया गया है कि बाइनरी ट्रेडिंग में यह अनुमान लगाया जाता है कि विकल्प करोबार में कौन-से शेयर कम समय में चढ़ेंगे या टूटेंगे और उसके बाद इनके ग्राहक उन अनुमानों के आधार पर खरीदारी करते हैं। एएसआईसी का कहना है कि यह खतरे और सट्टे वाला करोबार ऑस्ट्रेलिया के लिए पहले की तुलना में नया है।

यह भी पढ़े- यूजर्स से अब बात कर सकता है FACEBOOK  का नया टॉकिंग रोबोट, नया फीचर लाने की तैयारी

 

 


आपको बता दें कि विनिमायकों ने एप की समीक्षा की तो उन्होंने पाया कि इन एप मालिकों ने इसके बारे में यूजर्स को इस प्रकार के ट्रेडिंग जोखिम की जानकारी दे रखी है। विनिमायक ने कहा, इसकी बजाए उन्होंने लोगों से कहा है कि उनके एप के इस्तेमाल के तुंरत बाद वह अमीर बन सकते हैं। एएसआईसी ने इसके जानकारी होते ही तुंरत गूगल और एप्पल को नोटिस जारी कर ऐसी 330 एप हटाने के निर्देश दिए जिसके बाद दोनों कंपनियों ने अपने स्टोर से इन एप को हटा दिया है।

यह भी पढ़े- फर्जी आधार एप्स से रहें सावधान, UIDAI  ने जारी की चेतावनी

 

Todays Beets: