Friday, October 20, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

Google और Apple ने अपने ऑनलाइन स्टोर से हटाए 300 से अधिक ट्रेडिंग एप, जानें क्या है कारण

अंग्वाल संवाददाता
Google और Apple ने अपने ऑनलाइन स्टोर से हटाए 300 से अधिक ट्रेडिंग एप, जानें क्या है कारण

कैनबरा। ऑस्ट्रेलियाई सिक्योरिटीज एंड इंवेस्टमेंट कमिशन (एएसआईसी) के दखल के बाद गूगल और एप्पल ने 330 से ज्यादा स्देंहपूर्ण वितीय करोबार करने वाली एप को अपने प्ले स्टोर से हटा दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक, एएसआईसी ने पाया है कि कई एप बिना लाइसेंस लिए इनका संचालन कर रहे थी। जो बाइनरी ट्रेडिंग पर ध्यान केंद्रित करते हैं। प्रकाशित रिपोर्ट में बताया गया है कि बाइनरी ट्रेडिंग में यह अनुमान लगाया जाता है कि विकल्प करोबार में कौन-से शेयर कम समय में चढ़ेंगे या टूटेंगे और उसके बाद इनके ग्राहक उन अनुमानों के आधार पर खरीदारी करते हैं। एएसआईसी का कहना है कि यह खतरे और सट्टे वाला करोबार ऑस्ट्रेलिया के लिए पहले की तुलना में नया है।

यह भी पढ़े- यूजर्स से अब बात कर सकता है FACEBOOK  का नया टॉकिंग रोबोट, नया फीचर लाने की तैयारी

 

 


आपको बता दें कि विनिमायकों ने एप की समीक्षा की तो उन्होंने पाया कि इन एप मालिकों ने इसके बारे में यूजर्स को इस प्रकार के ट्रेडिंग जोखिम की जानकारी दे रखी है। विनिमायक ने कहा, इसकी बजाए उन्होंने लोगों से कहा है कि उनके एप के इस्तेमाल के तुंरत बाद वह अमीर बन सकते हैं। एएसआईसी ने इसके जानकारी होते ही तुंरत गूगल और एप्पल को नोटिस जारी कर ऐसी 330 एप हटाने के निर्देश दिए जिसके बाद दोनों कंपनियों ने अपने स्टोर से इन एप को हटा दिया है।

यह भी पढ़े- फर्जी आधार एप्स से रहें सावधान, UIDAI  ने जारी की चेतावनी

 

Todays Beets: