Wednesday, September 20, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

जानें बारिश के दौरान कैसे अपने उपकरणों को रख सकते हैं सुरक्षित

अंग्वाल न्यूज डेस्क
जानें बारिश के दौरान कैसे अपने उपकरणों को रख सकते हैं सुरक्षित

नई दिल्ली।  बारिश का मौसम शुरू होते ही हमें अपने इलेक्ट्राॅनिक सामानों का खास ख्याल रखना होता है। दिल्ली में चूंकि बारिश कम होती है इस वजह से लोग खासकर मोबाइल के लिए कोई सुरक्षा नहीं रखते हैं। गौरतलब है कि बारिश कब और कहां हो जाए कोई नहीं बता सकता है। ऐसे में इलेक्ट्रॉनिक एप्लायंसेज, स्मार्टफोन, टेबलेट और गैजेट विशेष रख-रखाव की मांग करते हैं। इस मौसम में हमें अपने मोबाइल का खास ख्याल रखना चाहिए। हमें अपने मोबाइल को वातावरण की नमी से बचाना चाहिए। हवा का मॉइस्चर इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के लिए सही नहीं होता। 

उपकरण को अनप्लग कर दें

भारी बारिश के चलते वोल्टेज में उतार-चढ़ाव का दौर चलता रहता है। इस वजह से ये उपकरण खराब हो सकते हैं। ऐसे समय में बेहतर होगा की आप अपनी इलेक्ट्रॉनिक एप्लायंसेज को अनप्लग कर दें ताकि किसी भी तरह के नुक्सान से बचा जा सके।

गैजेट्स के लिए वाटरप्रूफ केसे खरीद लें

मानसून के दौरान कभी भी बारिश हो सकती है। ऐसे में लोग अपने उपकरण के बचाव के लिए कुछ सामान अपने पास नहीं रखते हैं। ऐसे में वाटरप्रूफ केस से आप अपनी डिवाइस को नुकसान से बचा सकते हैं। अगर आप वाटरप्रूफ केस नहीं खरीद सकते हैं तो घर में रखे मोटे पाॅलीबैग से मोबाइल के आकार का पाॅलीथिन काटकर अपने पास रख लें। बारिश होने की स्थिति में आप इसे अपने पास रख लें। फोन को इस्तेमाल के बाद इसमें रख दें। 

फंगल ग्रोथ को रोकें

आपको बता दें वातावरण की नमी से मोबाइल के लिए खतरा बन सकता है। ऐसे मंे बीच-बीच में उसे कपड़े से पोछते रहें।

एप्लायंसेज का करते रहें इस्तेमाल

बारिश के मौसम में उपकरणों का इस्तेमाल बंद नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से वह जाम या खराब हो सकता है। उसे बीच-बीच में उपयोग में लाते रहना चाहिए ताकि वह चालू स्थिति में रहे। 


बैट्री निकाल दें

सुरक्षा के बाद भी अगर आपका इलेक्ट्राॅनिक उपकरण भीग जाता है तो सबसे पहले आप उसकी बैट्री निकाल दें। आपको बता दें कि फोन मैन्युफैक्चरिंग कंपनियां हैंडसेट के भीगने पर कोई वारंटी नहीं देती। अगर पानी फोन के अंदर चला गया है, तो फिर फोन की बैट्री निकाल लें। बैट्री निकालने के बाद हैंडसेट में बैटरी के नीचे एक छोटा-सा स्टीकर चिपका होता है, जो ज्यादातर फोन में व्हाइट कलर का होता है। अगर फोन के अंदर पानी चला गया है, तो यह पिंक या फिर रेड कलर में बदल जाता है या फिर अगर फोन के अंदर थोड़ी नमी है, तो इस स्टीकर का रंग बदल जाएगा।

स्विच ऑफ कर दें फोन

अगर आपके फोन में पानी चला गया है तो आप इसे फौरन बंद कर दें। अगर बंद है तो आॅन करने की गलती न करें इससे शाॅट सर्किट हो सकता है और आपका फोन खराब हो सकता है। इसके अलावा फोन में लगी एक्सेसरीज, जैसे- हैडफोन या चार्जर हटा लें।

कॉटन के कपड़े से करें साफ

फोन की बैट्री और एक्सेसरीज निकालने के बाद उसे कॉटन के कपड़े से अच्छी तरह से साफ करें। इससे ऊपर की नमी थोड़ी-बहुत सूख जाती है। पानी को सुखाने के लिए हेयर ड्रायर या माइक्रोवेव का इस्तेमाल न करें। फोन को खोलकर पंखे के सामने रख दें पानी सूख जाएगा। 

चावल का इस्तेमाल करें

अगर आपकी तमाम कोशिशों के बाद भी फोन के अंदर नमी बनी हुई है, तो एक देशी तरीका अपनाया जा सकता है। फोन को चावल के कंटेनर के अंदर डालकर उसे धूप में रख दें। दरअसल, चावल धूप से अंदर का तापमान बढ़ा देगा, जो फोन के अंदर के पानी को सुखा देता है। इस तरह से आपको 24 से 48 घंटे में बेहतर परिणाम मिलेगा।  

Todays Beets: