Monday, October 23, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

अब कार बता सकेगी कहीं आपको हार्ट अटैक तो नहीं आ रहा... 

अंग्वाल संवाददाता
अब कार बता सकेगी कहीं आपको हार्ट अटैक तो नहीं आ रहा... 

हार्ट अटैक के दौरान कुछ ही मिनटों में इंसान मर जाता और अगर सही समय पर इलाज़ मिल जाए तो जीवन बच जाता हैं और अगर यही हार्ट अटैक ड्राइविंग करते वक्त आ जाए तो खतरा और बढ़ जाता है। कैसे होगा अगर ड्राइविंग करते वक्त आपकी कार आपको पहले ही संकेत देदे कि आपको हार्ट अटैक तो नहीं आ रहा ? जी हां दोस्तो कुछ ऐसा ही युएस कि ‘मिशिगन यूनिवर्सिटी’ के शोधकर्ता और जापान की ऑटोमेकर कंपनी टोयोटा दोनों मिलकर इस शोध पर कार्य कर रहे हैं।

यह भी पढ़े - टाटा जल्द ही बाजार में उतारेगी 1 लीटर में 100 किलोमीटर चलने वाली कार, जानें कार की खासियत के ...

कार मे लगा सिस्टम बताएगा


बता दें कि ये सिस्टम एल्गोरिदम, पोटेंशियल सॅाल्युशन और हार्डवेयर ऑप्शन के द्वारा यह पता लगा लेगा कि ड्राइवर कि शारीरिक स्थिति कैसी है। शोधकर्तों के अनुसार, यह सिस्टम ईसीजी मेजरमेंट से फिजिओलॅाजी और बाकी मेडिकल मेजरमेंट से कार ड्राइव कर रहे व्यक्ति के दिल कि स्थिति के बारे में बताएगा।एक हाई-क्वालिटी डिवाइस होगी जो ड्राइवर के सीने से चिपकी होगी।

ड्राइवर की ईसीजी काउंटिग इस डिवाइस में अपलोड होगी , जो ड्राइवर के दिल को मॅानिटर करेगी। शोधकर्ताओं ने  बताया कि 2020 तक हमें इस शोध के नतीजें मिलना शुरू हो जाएंगे। आमतौर पर हार्ट अटैक कि घटना ज्यादा तर 65 साल से ऊपर के लोगों को होती है।

यह भी पढ़े -  अगर आप चाहते हैं कि आपके पर्सनल चैट कोई न पढ़े, ऐसे करें लाॅक

Todays Beets: