Tuesday, August 22, 2017

Breaking News

   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||   SC में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए याचिका दायर, कोर्ट ने दिया केंद्र को नोटिस    ||   राज्यसभा में सिब्बल बोले- छप रहे 1 नंबर के दो नोट, सदी का सबसे बड़ा घोटाला    ||   नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का आज होगा विस्तार, शपथ ले सकते हैं 16 मंत्री    ||   सपा को तगड़ा झटका, बुक्कल नवाब समेत 2 MLC का इस्तीफा, की मोदी-योगी की तारीफ    ||   नगालैंड: शुरहोजेली ने विश्वासमत से पहले ही मानी हार, ज़ेलियांग ने ली CM पद की शपथ    ||   बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा- पार्टी कहेगी तो दे दूंगा इस्तीफा    ||   डोकलाम विवाद: भारतीय सीमा के पास खूब हथियार जमा कर रहा है चीन!    ||   रवि शास्त्री की चाहत- सचिन को मिले भारतीय बल्लेबाजी का जिम्मा    ||

अब कार बता सकेगी कहीं आपको हार्ट अटैक तो नहीं आ रहा... 

अंग्वाल संवाददाता
अब कार बता सकेगी कहीं आपको हार्ट अटैक तो नहीं आ रहा... 

हार्ट अटैक के दौरान कुछ ही मिनटों में इंसान मर जाता और अगर सही समय पर इलाज़ मिल जाए तो जीवन बच जाता हैं और अगर यही हार्ट अटैक ड्राइविंग करते वक्त आ जाए तो खतरा और बढ़ जाता है। कैसे होगा अगर ड्राइविंग करते वक्त आपकी कार आपको पहले ही संकेत देदे कि आपको हार्ट अटैक तो नहीं आ रहा ? जी हां दोस्तो कुछ ऐसा ही युएस कि ‘मिशिगन यूनिवर्सिटी’ के शोधकर्ता और जापान की ऑटोमेकर कंपनी टोयोटा दोनों मिलकर इस शोध पर कार्य कर रहे हैं।

यह भी पढ़े - टाटा जल्द ही बाजार में उतारेगी 1 लीटर में 100 किलोमीटर चलने वाली कार, जानें कार की खासियत के ...

कार मे लगा सिस्टम बताएगा


बता दें कि ये सिस्टम एल्गोरिदम, पोटेंशियल सॅाल्युशन और हार्डवेयर ऑप्शन के द्वारा यह पता लगा लेगा कि ड्राइवर कि शारीरिक स्थिति कैसी है। शोधकर्तों के अनुसार, यह सिस्टम ईसीजी मेजरमेंट से फिजिओलॅाजी और बाकी मेडिकल मेजरमेंट से कार ड्राइव कर रहे व्यक्ति के दिल कि स्थिति के बारे में बताएगा।एक हाई-क्वालिटी डिवाइस होगी जो ड्राइवर के सीने से चिपकी होगी।

ड्राइवर की ईसीजी काउंटिग इस डिवाइस में अपलोड होगी , जो ड्राइवर के दिल को मॅानिटर करेगी। शोधकर्ताओं ने  बताया कि 2020 तक हमें इस शोध के नतीजें मिलना शुरू हो जाएंगे। आमतौर पर हार्ट अटैक कि घटना ज्यादा तर 65 साल से ऊपर के लोगों को होती है।

यह भी पढ़े -  अगर आप चाहते हैं कि आपके पर्सनल चैट कोई न पढ़े, ऐसे करें लाॅक

Todays Beets: