Wednesday, December 19, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

स्कूली बच्चों को बस्तों के बोझ से मुक्त करने के लिए सरकार की तरफ से दिए जाएंगे टैबलेट

अंग्वाल संवाददाता
स्कूली बच्चों को बस्तों के बोझ से मुक्त करने के लिए सरकार की तरफ से दिए जाएंगे टैबलेट

नई दिल्ली। सरकार स्कूली बच्चों के बस्तों का बोझ कम करने के लिए एक नया कदम उठाने जा रही है। सरकार की तरफ से जल्द ही स्कूली बच्चों को टेबलेट बांटे जाएंगे। इसके लिए सरकार की तरफ से 25 क्रेंदीय स्कूलों को चयनित किया जाएगा। इस बात की जानकारी खुद मानव विकास संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राज्यसभा में दी। रिपोर्ट के अनुसार, यह टैबलेट्स कक्षा 8 के छात्रों को दिए जाएंगे। सरकार इस योजना की पहल स्कूली बच्चों के बस्तों के बोझ को कम करने के लिए कर रही है।

ये भी पढ़ें- अब से एक ही दिन में होगी 10वीं और 12वीं की पीक्षाएं, CBSE ने किए बड़े बदलाव

आपको बता दें कि पहले कई बार अध्ययनों में सामने आ चुका है कि बस्ते में अधिक बोझ होने के कारण बच्चों के विकास में बाधा आती है, जिससे उनका पूर्ण रुप से शारीरिक विकास नहीं हो पाता है। इस बारे में मानव विकास संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि NCERT और CBSE ने भी इस मामले को सुलाझने के कई उपाय किए जा रहे हैं ।


ये भी पढ़ें- इस भारतीय मूल के बच्चे ने  IQ लेवल में आइंसटाइन और हॉकिंग जैसे दिग्गजों को भी पछाड़कर बनाया नया रिकॉर्ड, पढ़े पूरी खबर...

साथ ही उन्होंने बताया कि बच्चों को अच्छे गुणवत्ता वाले टैबलेट दिए जाएंगे । छात्रों को गणित एवं विज्ञान को पढ़ाने के लिए शिक्षक इन टैबलेट का इस्तेमाल करेंगे। वहीं मानव विकास संसाधन मंत्री ने बताया कि अब एनसीईआरटी की ओर से किताबें वेब और मोइबल पर उपलब्ध कराई जा रही है। इसके अलावा सीबीएसई के सभी स्कूलों में निर्देश जारी किए गए हैं कि वो यह सुनिश्चित करें कि कक्षा 2 तक के छात्रों को बस्ता लेकर स्कूल न आना पड़े।

Todays Beets: