Friday, July 20, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

मशीन बन रहा इंसान का दुश्मन, आने वाले सालों में रोबोट लेगा उसकी जगह

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मशीन बन रहा इंसान का दुश्मन, आने वाले सालों में रोबोट लेगा उसकी जगह

नई दिल्ली। इंसानों द्वारा किया जा रहा तकनीक का विकास उसके लिए ही खतरा बनता जा रहा है। ऐसा कहा जा रहा है कि आने वाले समय में इंसानों द्वारा किया जाने वाला काम रोबोट से लिया जाएगा। अगर ऐसा होता है तो पूरी दुनिया में रोजगार में जबर्दस्त गिरावट आएगी। हाल ही में आई ‘प्यू’ द्वारा जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2020 तक रोजगार के कई क्षेत्र ऐसे होंगे जो आॅटोमेशन का शिकार हो जाएंगे। तकनीक के इस विकास से डरे अमेरिका के लोगों ने स्वचालित कारों और रोबोट के इस्तेमाल से अभी से ही घबराने लगे हैं। आॅटोमेशन की वजह से अमेरिका में 18 से 24 सालों के नौजवानों की नौकरी जा चुकी है।

नौकरियां छिनने का खतरा

गौरतलब है कि जिस तरह से तकनीक का विकास हो रहा है उससे बड़े पैमाने पर इंसानी नौकरी के छिन जाने का खतरा मंडरा रहा है। वर्ल्ड इकोनाॅमिक फोरम की रिपोर्ट के अनुसार आने वाले पांच सालों में विकसित देशों की करीब 51 लाख नौकरियां छिन जाएंगी। 

ये भी पढ़ें - विंटर गेम्स के लिए औली पूरी तरह से तैयार, एक बार फिर से लग सकता है साहसिक खेलों के शौकीनों ...


सिर्फ ड्राइवरलेस कारें दौडेंगी

तकनीक के विकास की वजह से अमेरिका में ड्राइवरलेस कारों का चलन बढ़ता जा रहा है। ‘प्यू’ की रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका में आधे से ज्यादा लोग यह मानते हैं कि आने वाले 10 साल से 50 साल के अंदर सड़कों पर सिर्फ ड्राइवरलेस कार ही चलेंगे। 

 

Todays Beets: