Friday, December 15, 2017

Breaking News

   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद     ||   अश्विन ने लगाया विकेटों का सबसे तेज 'तिहरा शतक', लिली को छोड़ा पीछे     ||   पूरा हुआ सपना चौधरी का 'सपना', बेघर होने के साथ बॉलीवुड से मिला बड़ा ऑफर    ||   PAK सरकार ने शर्तें मानीं, प्रदर्शन खत्म करने कानून मंत्री को देना पड़ा इस्तीफा    ||   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||

मशीन बन रहा इंसान का दुश्मन, आने वाले सालों में रोबोट लेगा उसकी जगह

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मशीन बन रहा इंसान का दुश्मन, आने वाले सालों में रोबोट लेगा उसकी जगह

नई दिल्ली। इंसानों द्वारा किया जा रहा तकनीक का विकास उसके लिए ही खतरा बनता जा रहा है। ऐसा कहा जा रहा है कि आने वाले समय में इंसानों द्वारा किया जाने वाला काम रोबोट से लिया जाएगा। अगर ऐसा होता है तो पूरी दुनिया में रोजगार में जबर्दस्त गिरावट आएगी। हाल ही में आई ‘प्यू’ द्वारा जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2020 तक रोजगार के कई क्षेत्र ऐसे होंगे जो आॅटोमेशन का शिकार हो जाएंगे। तकनीक के इस विकास से डरे अमेरिका के लोगों ने स्वचालित कारों और रोबोट के इस्तेमाल से अभी से ही घबराने लगे हैं। आॅटोमेशन की वजह से अमेरिका में 18 से 24 सालों के नौजवानों की नौकरी जा चुकी है।

नौकरियां छिनने का खतरा

गौरतलब है कि जिस तरह से तकनीक का विकास हो रहा है उससे बड़े पैमाने पर इंसानी नौकरी के छिन जाने का खतरा मंडरा रहा है। वर्ल्ड इकोनाॅमिक फोरम की रिपोर्ट के अनुसार आने वाले पांच सालों में विकसित देशों की करीब 51 लाख नौकरियां छिन जाएंगी। 

ये भी पढ़ें - विंटर गेम्स के लिए औली पूरी तरह से तैयार, एक बार फिर से लग सकता है साहसिक खेलों के शौकीनों ...


सिर्फ ड्राइवरलेस कारें दौडेंगी

तकनीक के विकास की वजह से अमेरिका में ड्राइवरलेस कारों का चलन बढ़ता जा रहा है। ‘प्यू’ की रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका में आधे से ज्यादा लोग यह मानते हैं कि आने वाले 10 साल से 50 साल के अंदर सड़कों पर सिर्फ ड्राइवरलेस कार ही चलेंगे। 

 

Todays Beets: