Thursday, October 19, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

सिर्फ 5 मिनट में चार्ज होगी स्मार्टफोन की बैट्री, 2018 से शुरू होगा उत्पादन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सिर्फ 5 मिनट में चार्ज होगी स्मार्टफोन की बैट्री, 2018 से शुरू होगा उत्पादन

नई दिल्ली। स्मार्टफोन का इस्तेमाल करना भला किसे अच्छा नहीं लगता है। बस दिक्कत इसकी बैट्री को लेकर होती है। अक्सर यह देखने में आता है कि स्मार्टफोन की बैट्री जल्दी खत्म हो जाती है। अब जल्द ही इस परेशानी से निजात मिलने वाली है। इजरायल की एक स्टार्टअप कंपनी ने इस बात का दावा किया है कि वह जल्द ही ऐसा स्मार्टफोन बनाने वाली है जिसकी बैट्री सिर्फ 5 मिनट में चार्ज हो जाएगी। साल 2018 से इस फोन का उत्पादन शुरू हो जाएगा। 

फ्लैश बैट्री का होगा निर्माण 

गौरतलब है कि स्टोरडॉट नाम के इजरायली स्टार्टअप कंपनी ने किया है। कंपनी ने अपनी फ्लैशबैटरी को लास वेगस में हुए कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक शो यानि CES में दिखाया था। स्टोरडॉट के सीईओ डोरोन मिसर्डफ के मुताबिक, “इस स्मार्टफोन का उत्पादन साल 2018 में कभी भी शुरू हो सकता है।” विशेषज्ञों की मानें तो कई कंपनियों ने इससे पहले भी ऐसी तकनीक लाने की बात कही है, लेकिन आज तक ऐसी कोई टेक्नोलॉजी लॉन्च नहीं की गई है। यहां बता दें कि अभी तक किसी भी कंपनी ने इस तरह की बैट्री लाॅन्च नहीं की है। स्टोरडाॅट ने भी अभी सिर्फ तकनीक के बारे में ही बताया है। 


ऐसे काम करेगी यह बैट्री 

आपको बता दें कि मैकगिल यूनिवर्सिटी कनाडा के शोधकर्ता ने बताया कि आज यूजर्स अपनी सभी जानकारी स्मार्टफोन में सेव कर रखते हैं। ऐसे में उसका चार्ज होना बेहद जरूरी है। अगर आप कहीं जाते हैं और फोन की बैट्री डिस्चार्ज हो जाती है। ऐसे में अगर आपके पास चार्जिंग की सुविधा न हो तो आपको काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वैज्ञानिकों ने इसके लिए पोर्टेबल सोलर चार्जर डेवलप किया है। हालांकि, इन्हें लेकर एक परेशानी यह भी है कि इन हाइब्रिड डिवाइस को छोटे आकार का बनाना काफी मुश्किल काम है। इसके लिए वैज्ञानिक एक सिंगल डिवाइस बनाने की कोशिश रहे हैं, जिसके जरिए रोशनी से एनर्जी जेनरेट किया जा सकेगा। अगर वैज्ञानिक ऐसा करने में सफल हो जाते हैं तो वह दुनिया की पहली 100 फीसदी खुद चार्ज होने वाली लिथियम आयन बैट्री बनाने में सफल हो जाएंगे।

 

Todays Beets: