Sunday, May 27, 2018

Breaking News

   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||

फर्जी आधार एप्स से रहें सावधान, UIDAI  ने जारी की चेतावनी

अंग्वाल संवाददाता
फर्जी आधार एप्स से रहें सावधान, UIDAI  ने जारी की चेतावनी

नई दिल्ली। यूआईडीएआई ने सूचना जारी करते हुए सभी आधार धारकों को फर्जी आधार कार्ड की एप्स से सावधान रहने को कहा है। दरअसल, आधार नंबर से व्यक्तिगत जानकारी उपलब्ध कराने वाली मोबाईल एप विकसित करने बनाने बेंगलुरू निवासी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। विशिष्ट पहचान प्राधिकरण विभाग(UIDAI) ने इसे अनपौचारिक बताते हुए आधार कानून के तहत मामला दर्ज किया है। यूआईडीएआई के मुख्य अधिकारी अजय भूषण पांडे ने इस जानकारी को मीडिया में साझा किया है। साथ ही उन्होंने यूआईडीएआई के डाटाबेस में सेंध लगाने और हैक होने की खबरों का खंडन किया।

यह भी पढ़े- भारत सरकार जल्द ही शुरू करेगी Bike taxi service, नई एप होगी लॉन्च

इस एप के जरिए आधार नंबर की अनुमति देने पर ही व्यक्ति सूचनाएं प्राप्त कर सकता है। यूआईडीएआई के प्रमुख ने बताया कि इस एप से आधार धारक खुद की जानकारी को डाउनलोड कर रहे हैं। बारह अंको वाले आधार नंबर डालने पर यूजर को वन टाइम पासवर्ड मिलता है। जिसे ओटीपी भी कहा जाता है। इसके बाद ही यूजर को सारी जानकारी उपलब्ध होती है। वहीं उन्होंने सभी आधार धारकों की सूचना सुरक्षित होने की बात कही है।


यह भी पढ़े- कैब सर्विस कंपनी UBER ने यात्रियों में भरोसा बढ़ाने के लिए लॉन्च किया यह नया फीचर

अजय भूषण ने कहा कि आधार एक्ट के तहत ऐसे कार्य आपराधिक और दंडनीय मान्य हैं। इसके अलावा उन्होंने आधार धारकों को सलाह देते हुए कहा है कि सरकारी संस्था या यूआईडीएआई से मान्यता प्राप्त संस्था के अलावा किसी अन्य संस्था को आधार नंबर न दें।

Todays Beets: