Thursday, August 16, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

फर्जी आधार एप्स से रहें सावधान, UIDAI  ने जारी की चेतावनी

अंग्वाल संवाददाता
फर्जी आधार एप्स से रहें सावधान, UIDAI  ने जारी की चेतावनी

नई दिल्ली। यूआईडीएआई ने सूचना जारी करते हुए सभी आधार धारकों को फर्जी आधार कार्ड की एप्स से सावधान रहने को कहा है। दरअसल, आधार नंबर से व्यक्तिगत जानकारी उपलब्ध कराने वाली मोबाईल एप विकसित करने बनाने बेंगलुरू निवासी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। विशिष्ट पहचान प्राधिकरण विभाग(UIDAI) ने इसे अनपौचारिक बताते हुए आधार कानून के तहत मामला दर्ज किया है। यूआईडीएआई के मुख्य अधिकारी अजय भूषण पांडे ने इस जानकारी को मीडिया में साझा किया है। साथ ही उन्होंने यूआईडीएआई के डाटाबेस में सेंध लगाने और हैक होने की खबरों का खंडन किया।

यह भी पढ़े- भारत सरकार जल्द ही शुरू करेगी Bike taxi service, नई एप होगी लॉन्च

इस एप के जरिए आधार नंबर की अनुमति देने पर ही व्यक्ति सूचनाएं प्राप्त कर सकता है। यूआईडीएआई के प्रमुख ने बताया कि इस एप से आधार धारक खुद की जानकारी को डाउनलोड कर रहे हैं। बारह अंको वाले आधार नंबर डालने पर यूजर को वन टाइम पासवर्ड मिलता है। जिसे ओटीपी भी कहा जाता है। इसके बाद ही यूजर को सारी जानकारी उपलब्ध होती है। वहीं उन्होंने सभी आधार धारकों की सूचना सुरक्षित होने की बात कही है।


यह भी पढ़े- कैब सर्विस कंपनी UBER ने यात्रियों में भरोसा बढ़ाने के लिए लॉन्च किया यह नया फीचर

अजय भूषण ने कहा कि आधार एक्ट के तहत ऐसे कार्य आपराधिक और दंडनीय मान्य हैं। इसके अलावा उन्होंने आधार धारकों को सलाह देते हुए कहा है कि सरकारी संस्था या यूआईडीएआई से मान्यता प्राप्त संस्था के अलावा किसी अन्य संस्था को आधार नंबर न दें।

Todays Beets: