Monday, July 23, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

अवैध तरीके से पेड़ों के कटान मामले में रेंजर समेत 5 दारोगा निलंबित, वन विभाग ने की कार्रवाई

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अवैध तरीके से पेड़ों के कटान मामले में रेंजर समेत 5 दारोगा निलंबित, वन विभाग ने की कार्रवाई

अल्मोड़ा। अल्मोड़ा के मोहान में फर्जी तरीके से 98 पेड़ों को काटने और चंपावत में लीसे की गुलिया और छिलके के लिए रवन्ना जारी किए जाने के मामले में कार्रवाई करते हुए वन विभाग ने 2 रेंजरों, 5 वन दारोगा समेत 8 लोगों को निलंबित कर दिया है। इन पर विभागीय कामों में कोताही और अनियमितता बरतने का आरोप भी लगाया गया है। इस कार्रवाई के बाद वन विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। 

काम में कोताही

गौरतलब है कि मोहान वन क्षेत्र और चंपावत वन प्रभाग के शिकायतें काफी समय से आ रही थी। इसकी जांच कराने के बाद ये अनियमितता सामने आई है। इस जांच में आठ अधिकारी/कर्मियों को अनियमितता का दोषी पाया गया। जांच रिपोर्ट मिलने के बाद वन संरक्षक उत्तरी वृत्त कुमाऊं डॉ. आईपी सिंह ने निलंबन के आदेश किए ।

ये भी पढ़ें -पहाड़ी रास्तों पर हो रही ओवरलोडिंग पर हाईकोर्ट सख्त, भारी वाहनों पर लगाई रोक


इन पर गिरी गाज

मोहान वन क्षेत्र के रेंजर नवीन कुमार टम्टा, वन दारोगा लक्ष्मण राम और सतीश आर्या के अलावा चम्पावत वन प्रभाग के रेंजर हिमालय सिंह टोलिया (भिगराणा रेंज), वन दारोगा भुवन जोशी, किशन राम और सुरेश प्रसाद को निलंबित किया गया है। उत्तरीवृत्त कुमाऊं, अल्मोड़ा के वन संरक्षक का कहना है कि विभागीय कामों में कोताही बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस तरह का काम करने वालों पर आगे भी कार्रवाई की जाएगी।

 

Todays Beets: