Saturday, October 20, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

अवैध तरीके से पेड़ों के कटान मामले में रेंजर समेत 5 दारोगा निलंबित, वन विभाग ने की कार्रवाई

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अवैध तरीके से पेड़ों के कटान मामले में रेंजर समेत 5 दारोगा निलंबित, वन विभाग ने की कार्रवाई

अल्मोड़ा। अल्मोड़ा के मोहान में फर्जी तरीके से 98 पेड़ों को काटने और चंपावत में लीसे की गुलिया और छिलके के लिए रवन्ना जारी किए जाने के मामले में कार्रवाई करते हुए वन विभाग ने 2 रेंजरों, 5 वन दारोगा समेत 8 लोगों को निलंबित कर दिया है। इन पर विभागीय कामों में कोताही और अनियमितता बरतने का आरोप भी लगाया गया है। इस कार्रवाई के बाद वन विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। 

काम में कोताही

गौरतलब है कि मोहान वन क्षेत्र और चंपावत वन प्रभाग के शिकायतें काफी समय से आ रही थी। इसकी जांच कराने के बाद ये अनियमितता सामने आई है। इस जांच में आठ अधिकारी/कर्मियों को अनियमितता का दोषी पाया गया। जांच रिपोर्ट मिलने के बाद वन संरक्षक उत्तरी वृत्त कुमाऊं डॉ. आईपी सिंह ने निलंबन के आदेश किए ।

ये भी पढ़ें -पहाड़ी रास्तों पर हो रही ओवरलोडिंग पर हाईकोर्ट सख्त, भारी वाहनों पर लगाई रोक


इन पर गिरी गाज

मोहान वन क्षेत्र के रेंजर नवीन कुमार टम्टा, वन दारोगा लक्ष्मण राम और सतीश आर्या के अलावा चम्पावत वन प्रभाग के रेंजर हिमालय सिंह टोलिया (भिगराणा रेंज), वन दारोगा भुवन जोशी, किशन राम और सुरेश प्रसाद को निलंबित किया गया है। उत्तरीवृत्त कुमाऊं, अल्मोड़ा के वन संरक्षक का कहना है कि विभागीय कामों में कोताही बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस तरह का काम करने वालों पर आगे भी कार्रवाई की जाएगी।

 

Todays Beets: