Friday, December 14, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

राज्य के लोगों और पर्यटकों की बढ़ी मुसीबतें, आज से थम गए कुमाऊं मंडल में 25 हजार टैक्सियों के पहिए 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राज्य के लोगों और पर्यटकों की बढ़ी मुसीबतें, आज से थम गए कुमाऊं मंडल में 25 हजार टैक्सियों के पहिए 

देहरादून। राज्य के पहाड़ी इलाकों में रहने वालों के साथ ही पर्यटकों की मुसीबतें शुक्रवार से बढ़ सकती हैं। जी हां, अपनी मांगों को लकर कुमाऊं मंडल में टैक्सी मैक्सी का हड़ताल शुरू हो गया है। हड़ताल की वजह से करीब 25 हजार टैक्सियों की रफ्तार पर ब्रेक लग जाएगा। बता दें कि इन टैक्सियों के जरिए रोजाना करीब 1 लाख से ज्यादा लोग सफर करते हैं। टैक्सियों के नहीं चलने से पर्वतीय जिलों में यातायात व्यवस्था ठप होने की आशंका है। बता दें कि अपनी मांगों को लेकर टैक्सी मैक्सी महासंघ के आह्वान पर गढ़वाल में 27 सितंबर से टैक्सी चालक हड़ताल पर हैं। 

गौरतलब है कि गढ़वाल में टैक्सी चालकों की हड़ताल का समर्थन कुमाऊं के टैक्सी चालकों ने भी किया है। उनका कहना है कि पेट्रोल और डीजल की कीमतें लगातार बढ़ती जा रही हैं लेकिन सरकार किराया नहीं बढ़ा रही है। वहीं दूसरी ओर वाहन मालिकों से ग्रीन कार्ड के नाम पर वसूली की जा रही है। 

ये भी पढ़ें - भाजपा विधायक ने लव जेहाद के बदले लव क्रांति सेना बनाने की अपील, सीएम भी उतरे समर्थन में


यहां बता दें कि ओवर लोडिंग में ड्राइवर का लाइसेंस निरस्तीकरण, जुर्माना और मुकदमा होता है। टैक्सी चालकों का कहना है कि एक गलती की तीन-तीन सजाएं देकर उनका उत्पीड़न किया जा रहा है। सड़क हादसा होने पर चालक और वाहन स्वामी दोनों पर मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। स्पीड गर्वनर के नाम पर भी चालकों का उत्पीड़न किया जा रहा है। इसके विरोध में कुमाऊं में टैक्सी मैक्सी की हड़ताल की जा रही है। 

 

Todays Beets: