Monday, September 24, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

उपनल के 4 हजार कर्मचारियों को दिवाली गिफ्ट, नौकरी होगी पक्की

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उपनल के 4 हजार कर्मचारियों को दिवाली गिफ्ट, नौकरी होगी पक्की

देहरादून। राज्य सरकार ने ऊर्जा निगम में काम करने वाले 4 हजार उपनल कर्मचारियों को दिवाली से पहले ही बड़ी सौगात दी है। सरकार इनका नियमितीकरण करने जा रही है। औद्योगिक न्यायाधिकरण हल्द्वानी ने यह बड़ा फैसला सुनाया है। न्यायाधिकरण के आदेश के बाद उपनल के तकनीकी कर्मचारियों को 4 अगस्त 2014 से नियमित माना जाएगा और उन्हें बाकी कर्मचारियों की तरह समान काम के बदले समान वेतन का लाभ मिलेगा। 

नियमित करने के आदेश

गौरतलब है कि ऊर्जा निगम के तहत आने वाले यूपीसीएल, पिटकुल और उत्तराखंड जलविद्युत निगम के तकनीकी विभाग में उपनल के तहत काम करने वाले करीब 4 हजार कर्मचारी कई सालों से ठेके पर काम कर रहे हैं। हाईकोर्ट ने  पहले ही उन्हें नियमित करने के आदेश दिए थे। इसके बाद करीब 1 साल से यह मामला औद्योगिक न्यायाधीकरण हल्द्वानी में विचाराधीन रहा। पीठासीन अधिकारी औद्योगिक न्यायाधिकरण हल्द्वानी नितिन शर्मा ने उपनलकर्मियों के पक्ष में महत्वपूर्ण फैसला सुना दिया।


ये भी पढ़ें - हनीप्रीत की रिमांड खत्म,पंचकूला कोर्ट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा, अंबाला जेल में रहेगी

किसे मिलेगा लाभ

उपनल कर्मचारियों की पैरवी करने वाले हाईकोर्ट अधिवक्ता एमसी पंत ने ऊर्जा निगम में टीजीटी-2, डाटा एंट्री ऑपरेटर, कार्यालय सहायक और क्लर्क के पदों पर उपनल के तहत कार्यरत हैं। बताया कि फैसले का अध्ययन किया जा रहा है, जिसके बाद शुक्रवार (आज) को साफ होगा कि किन कर्मचारियों को आदेश का लाभ मिलेगा। 

Todays Beets: