Thursday, January 17, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

रुद्रपुर में नशे का इंजेक्शन लगाने से 6 युवाओं को हुआ एड्स, स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
रुद्रपुर में नशे का इंजेक्शन लगाने से 6 युवाओं को हुआ एड्स, स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप

देहरादून। उत्तराखंड में दिनों दिन नशे का कारोबार बढ़ रहा है और युवाओं को अपनी चपेट में लेता जा रहा है। पिछले एक महीने में नशे के लिए संक्रमित सीरिंज को शेयर करने की वजह से 6 युवकों को एड्स हो गया है। एक साथ 6 नौजवानों के एचआईवी पॉजिटिव मिलने से स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई है। खबरों के अनुसार इन सभी नौजवानों का इलाज हल्द्वानी के एआरटी सेंटर में शुरू कर दिया गया है। बता दें कि रुद्रपुर में नए साल के पहले ही दिन एड्स पीड़ित एक नशेड़ी युवक की मौत हुई थी।

गौरतलब है कि आत पूरे प्रदेश के युवाओं में नशे की प्रवृत्ति बढ़ती जा रही है। खासकर रुद्रपुर में, जिला अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक डॉ. डीडी रखोलिया ने बताया कि ओएसटी सेंटर में 381 मरीजों का इलाज चल रहा है। इनमें से इंजेक्शन लगाकर नशा करने वाले 120 मरीज शामिल हैं। जनवरी की रिपोर्ट में कहा गया है कि रुद्रपुर में एक ही सीरिंज का इस्तेमाल करने से 6 लोगों के एचआईवी पाॅजिटिव होने की खबर है।  

ये भी पढ़ें - लोकसभा चुनाव में ‘बुआ-बबुआ’ का होगा गठबंधन, कांग्रेस को नहीं मिला बुलावा


बताया जा रहा है कि इन युवकों ने खुद ही इस बात को माना है कि उन लोगों ने  एड्स संक्रमित दूसरे साथियों के साथ नशे का इंजेक्शन शेयर किया था। अब एआरटी की इस गोपनीय रिपोर्ट से स्वास्थ्य विभाग में खलबली मची हुई है। ओएसटी प्रभारी एवं काउंसलर डॉक्टर श्वेता दीक्षित ने बताया कि जिले में वर्ष 2013 से अब तक इंजेक्शन से नशा लेने से 76 युवा एड्स से संक्रमित हो चुके हैं और इनमें से 21 युवकों की मौत हो चुकी है। 

Todays Beets: