Monday, May 27, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

BCCI बोली- Uttarakhand में क्रिकेट की चारों एसोसिएशन बनाएं एक फेडरेशन , तभी मिलेगी गतिविधियों को मान्यता

अंग्वाल संवाददाता
BCCI बोली- Uttarakhand में क्रिकेट की चारों एसोसिएशन बनाएं एक फेडरेशन , तभी मिलेगी गतिविधियों को मान्यता

दिल्ली/देहरादून । उत्तराखंड में क्रिकेट संघों की आपसी लड़ाई में अब बीसीसीआई के COA विनोद राय ने कहा है कि चारों संघों को अब एकजुट होकर एक नया फेडरेशन बनाना होगा। ऐसा होने के बाद ही उत्तराखंड को क्रिकेट गतिविधियों के संचालन की अनुमति के साथ मान्यता दी जा सकेगी। बीसीसीआई के प्रशासकों की समिति के अध्यक्ष विनोद राय ने दिल्ली में उत्तराखंड के चारों संघों के साथ बैठकर के दौरान उनके प्रतिनिधियों से यह बात कही। हालांकि मौजूदा समय में चारों क्रिकेट संघों के आपसी गतिरोध के चलते उन सबका एक होकर नई फेडरेशन बनाने की संभावनाएं अभी नजर नहीं आ रही है। अब इस मुद्दे पर आगामी 5 मई को देहरादून में प्रोफेसर रत्नाकर शेट्टी के साथ चारों एसोसिएशन के पदाधिकारियों की बैठक होगी। सीओए विनोद राय ने 14 मार्च तक इस मुद्दे पर एक ठोस फैसला लेने को कहा है।

PM मोदी  - आपका प्रधानसेवक दुनियाभर में आतंकियों का दानापानी बंद करने में जुटा है , मुझमें-मां भवानी में विश्वास रखें

दो-दो प्रतिनिधियों को बुलाया

बता दें कि दिल्ली के एक होटल में आयोजित एक बैठक में बीसीसीआई के प्रशासकों की समिति के अध्यक्ष विनोद राय ने उत्तराखंड के चारों क्रिकेट एसोसिएशन के दो-दो प्रतिनिधियों को बातचीत के लिए बुलाया था। इस दौरान एसोसिएशन के पदाधिकारियों की बातचीत सुनने के बाद विनोद राय ने कहा कि अगर उत्तराखंड में खेल की गतिविधियों के लिए मान्यता चाहिए तो चारों संघों को अपने गतिरोध खत्म करते हुए एक फेडरेशन बनानी होगी।

पाकिस्तान के साथ न खेलने पर कोहली बोले- हमारा रुख सख्त है, हम अपने राष्ट्र और BCCI के फैसले के साथ खड़े हैं

इन एसोसिएशन के पदाधिकारी आए


इस बैठक में क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड से महिम वर्मा व हीरा सिंह बिष्ट, उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन से दिव्य नौटियाल व राम शरण नौटियाल, उत्तरांचल क्रिकेट एसोसिएशन से चंद्रकांत आर्य व प्रदीप सिंह और यूनाईटेड क्रिकेट एसोसिएशन से संजय गुसाई व संजय रावत मौजूद रहे। इसके साथ ही बीसीसीआई की ओर से प्रोफेसर रत्नाकर शेट्टी भी बैठक में शामिल हुए।

आपके रेल टिकट पर अब दूसरा भी कर सकेगा यात्रा, लेकिन कैसे...रेलवे ने बनाई है यह नियमावली

14 मार्च तक लें ठोस निर्णय

हालांकि बैठक के दौरान चारों एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने अपना-अपना पक्ष रखा, जिसे खारिज करते हुए विनोद राय ने आगामी 14 मार्च तक एक ठोस निर्णय लेने को कहा। उन्होंने इसके लिए आगामी 5 मार्च को प्रोफेसर रत्नाकर शेट्टी के साथ बैठक कर इस मुद्दे पर अपनी रणनीति बनाने को कहा।

क्रिकेटरों के हित में सोचे

बैठक के दौरान सीओए विनोद राय ने चारों एसोसिएशनों से कहा कि आप राज्य में क्रिकेट गतिविधियां चला रहे हैं । ऐसे में आपके लिए खिलाड़ी एक समान होने चाहिए। आप लोगों को किसी भी प्रकार के पक्षपात से बचना होगा। हालांकि इस दौरान यह भी जानकारी मिल रही है कि इन पदाधिकारियों को काउंसिलिंग के लिए मुंबई भेजा जा सकता है। जहां इन्हें एसोसिएशन चलाने के गुर सिखाए जा सकते हैं।

Todays Beets: