Monday, May 27, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

रोजगार व स्वरोजगार को बढ़ावा देना राज्य सरकार की प्राथमिकता , 6 मार्च को परेड ग्राउंड में खास कार्यक्रम - त्रिवेंद्र रावत

अंग्वाल संवाददाता
रोजगार व स्वरोजगार को बढ़ावा देना राज्य सरकार की प्राथमिकता , 6 मार्च को परेड ग्राउंड में खास कार्यक्रम - त्रिवेंद्र रावत

देहरादून । उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बुधवार को कहा कि उनकी सरकार की प्राथमिकताओं में रोजगार और स्वरोजगार को बढ़ावा देना है। असल में यह वर्ष प्रदेश सरकार रोजगार वर्ष के रूप में मनाने जा रही है। प्रदेश में रोजगार व स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न क्षेत्रों में किये जा रहे कार्यों, नीतियों व रोजगार के अवसरों के बारे में युवाओं को जागरूक किया जायेगा। इसी क्रम में 6 मार्च को सुबह 11 बजे से परेड ग्राउण्ड में ‘‘युवा उत्तराखण्ड-रोजगार एवं उद्यमिता की ओर’’ कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। 

उत्तराखंड से रातों रात कश्मीरी छात्रों को ले जाने का मुद्दा गर्माया, महाराज बोले- PDP नेता पर FIR दर्ज हो, रावत ने कहा- छात्रों के लिए नए नियम

बता दें कि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने इस कार्यक्रम को लेकर विधानसभा में अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक के बाद सीएम ने कहा - पिछले 2 वर्ष में राज्य में सरकारी सेवाओं व विभिन्न विभागों के माध्यम से प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से कितना रोजगार सृजन किया गया, इसका सेक्टर वाइज ब्यौरा दिया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में किन-किन क्षेत्रों में रोजगार की अधिक सम्भावनाएं हैं, युवाओं को इसके लिए जागरूक किया जाए। 


अंतरराष्ट्रीय मानव अधिकार कार्यकर्ता का शहीद मेजर ढौंडियाल की पत्नी निकिता को संदेश- वह सिर्फ तुम्हारे ही नहीं पूरी दुनिया के हीरो

उन्होंने कहा प्रदेश में स्वरोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए जो नीतिगत परिवर्तन किये गये हैं, उनकी युवाओं को जानकारी दी जाए। पर्यटन, कृषि, उद्यमिता, सहकारिता व अन्य क्षेत्रों में स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए जो कार्य हो रहे हैं, युवाओं को विभिन्न प्रचार माध्यमों से इनकी जानकारी दी जाए। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि युवाओं को रोजगार व स्वरोजगार के अधिक से अधिक अवसर मिले इस संबंध में 6 मार्च 2019 को होने वाले कार्यक्रम  ‘‘युवा उत्तराखण्ड’’ रोजगार एवं उद्यमिता की ओर के लिए विस्तृत कार्य योजना बनाई जाए। इस आयोजन के लिए उच्च शिक्षा के साथ उद्योग, तकनीकि शिक्षा, श्रम, सेवायोजन, पर्यटन आदि विभाग समन्वय बनाकर कार्य करेंगे। 

Todays Beets: