Tuesday, November 20, 2018

Breaking News

   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||

उत्तरकाशी में गुरु-शिष्य परंपरा हुई तार-तार, शिक्षक के उत्पीड़न से परेशान छात्र ने की आत्महत्या

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तरकाशी में गुरु-शिष्य परंपरा हुई तार-तार, शिक्षक के उत्पीड़न से परेशान छात्र ने की आत्महत्या

उत्तरकाशी। उत्तरकाशी में एक शिक्षक ने गुरु शिष्य परंपरा को शर्मसार कर दिया। शिक्षक के उत्पीड़न से परेशान छात्र ने घर के छज्जे पर फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। खुदकुशी करने से पहले छात्र ने अपने परिजनों के साथ ही चाइल्ड हेल्प लाइन को फोन कर बताया भी था कि विद्यालय में एक शिक्षक उसका उत्पीड़न कर रहा है। हालांकि पुलिस को इस मामले में अभी तक कोई तहरीर नहीं मिली है। पुलिस का कहना है कि तहरीर मिलने पर शिक्षक के खिलाफ जरूरी कार्रवाई की जाएगी। 

गौरतलब है कि उत्तरकाशी जिला मुख्यालय से लगी वरुणा घाटी के खुरकोट गांव में कक्षा 9 के छात्र मनीष चैहान (15) मंगलवार देर शाम को घर के छज्जे पर फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी। बताया जा रहा है कि उसके 3 बड़े भाई शहर से बाहर नौकरी करते हैं। स्थानीय लोगों ने बताया कि घटना के समय उसके माता-पिता भी किसी काम से घर से बाहर गए हुए थे। लौटने पर उन्होंने अपने बेटे को फंदे से लटका पाया।

ये भी पढ़ें - त्रिवेन्द्र रावत कैबिनेट ने ‘योगी’ के पिता को दिया बड़ा तोहफा, स्कूल को दिया काॅलेज का दर्जा


यहां बता दें कि घटना की जानकारी मिलने के बाद चाइल्ड हेल्प लाइन की टीम ने बताया कि छात्र ने मंगलवार शाम 5 बजे चाइल्ड हेल्प लाइन पर फोन कर विद्यालय में शिक्षक द्वारा उत्पीड़न करने की बात कही थी। चाइल्ड हेल्प लाइन के समन्वयक ने बताया कि छात्र मनीष ने हेल्प लाइन में शिकायत की थी कि होमवर्क नहीं करने पर स्कूल में शिक्षक ने उसकी पिटाई की और जब उसने विद्यालय से नाम कटवाने की इच्छा जताई तो शिक्षक ने उसे टीसी के बजाय चरित्रहीन प्रमाण-पत्र जारी करने की बात कही थी। इस बात को लेकर वह काफी परेशान था, हेल्प लाइन की टीम ने मौके पर पहुंचकर मामले को सुलझाने की बात कही थी लेकिन उससे पहले ही छात्र ने आत्महत्या कर ली। इस मामले में पुलिस का कहना है कि उन्हें कोई तहरीर नहीं मिली है जब मिलेगी तो उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। 

 

Todays Beets: