Friday, December 14, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

इंवेस्टर्स समिट से पहले अदानी ग्रुप ने राज्य में 1000 करोड़ के निवेश को दी सहमति, जल्द ही साइन होंगे समझौते

अंग्वाल न्यूज डेस्क
इंवेस्टर्स समिट से पहले अदानी ग्रुप ने राज्य में 1000 करोड़ के निवेश को दी सहमति, जल्द ही साइन होंगे समझौते

देहरादून। उत्तराखंड में विकास की रफ्तार जल्द ही तेज होगी। अगले महीने होने वाले इंवेस्टर्स समिट से पहले अदानी ग्रुप ने राज्य में एग्रो सेक्टर में करीब 1000 करोड़ रुपये के निवेश की सहमति दे दी है। राज्य का कृषि विभाग इस निवेश को लेकर जल्द ही एमओयू पर साइन किया जाएगा। खबरों के अनुसार इंवेस्टर्स समिट से पहले कृषि विभाग को करीब 1500 करोड़ के निवेश का लक्ष्य दिया गया था लेकिन समिट के शुरू होने से पहले ही विभाग ने अदानी और दूसरी कंपनियों के साथ करीब 1650 करोड़ रुपये के निवेश पर सहमति हासिल कर ली है। 

गौरतलब है कि इंवेस्टर्स समिट के जरिए सरकार ने कृषि, बागवानी, ऐरामेटिक, पर्यटन, आयुष, वेलनेस, सोलर ऊर्जा, ऑटोमोबाइल, फिल्म इंडस्ट्री, इलेक्ट्रिक वाहन, फूड प्रोसेसिंग, आईटी, बायोटेकभनोलॉजी, स्वास्थ्य, शिक्षा के क्षेत्र में अलग-अलग निवेश का लक्ष्य निर्धारित किया है। अब अदानी ग्रुप ने कृषि के क्षेत्र में 1000 करोड़ रुपये का निवेश करने पर अपनी सहमति दे दी है।  कृषि विभाग की ओर से जल्द ही इस समझौते पर दस्तखत किए जाएंगे। 

ये भी पढ़ें - नियुक्ति न मिलने से नाराज अतिथि शिक्षकों ने किया आंदोलन का ऐलान, निदेशालय में आज करेंगे तालाबंदी


यहां बता दें कि अदानी के अलावा सारडोनेक्स एग्रो टेक ने 400 करोड़ का निवेश सहमति दी है। इंडोनेशिया की इंडो इन कंपनी, इंदौर की एडवांस ग्रुप आफ कंपनी, जुविलेंट कंपनी समेत अन्य तमाम कंपनियों की ओर से निवेश के प्रस्ताव कृषि विभाग को मिले हैं। इसके अलावा नेचुरल हैंप (भांग) बिच्छू घास(कडाली), भीमल से तैयार होने वाले फाइबर पर आधारित उद्योग लगाने में निवेशकों ने रुचि दिखाई है। 

 

Todays Beets: