Thursday, October 19, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

ऋषिकेश में एईआरबी की टीम की छापेमारी से स्वास्थ्य केन्द्र संचालकों में हड़कंप, बिना लाईसेंस चल रहे मशीनों को किया सील

अंग्वाल न्यूज डेस्क
ऋषिकेश में एईआरबी की टीम की छापेमारी से स्वास्थ्य केन्द्र संचालकों में हड़कंप, बिना लाईसेंस चल रहे मशीनों को किया सील

ऋषिकेश। ऋषिकेश में अवैध तरीके से चल रहे स्वास्थ्य केन्द्रों पर परमाणु ऊर्जा नियामक परिषद(एईआरबी) की टीम ने छापेमारी की है। इस छापेमारी में शहर के निजी स्वास्थ्य जांच केंद्र में बिना लाइसेंस और मानकों के विपरीत चल रहे सिटी स्कैन और एक्स-रे सेंटर का पता चला है। छापेमारी के बाद सिटी स्कैन मशीन और एक्स रे मशीन को सील कर दिया गया है। 

मशीनों को किया सील

गौरतलब है कि राज्य में किडनी रैकेट का खुलासा होने के बाद यहां चलने वाले स्वास्थ्य केन्द्रों पर विभाग के साथ परमाणु ऊर्जा नियामक परिषद् काफी सख्त हो गया है। टीम ने देहरादून रोड पर छह निजी स्वास्थ्य जांच केंद्रों में संचालित विभिन्न मशीनों और उनके लाइसेंस की जांच की, जिसमें एक डॉयग्नोस्टिक सेंटर में बिना लाइसेंस के सिटी स्कैन मशीन का संचालन होता मिला। इसके साथ ही डेंटल और एक्स रे मशीन के संचालन में भी काफी लापरवाही देखी गई।  टीम ने सभी मशीनों को सील कर दिया है। 

ये भी पढ़ें - शक्तिमान प्रकरण का मुकदमा वापस लेने पर राजनीति तेज, पशु संरक्षक संस्था भी उठा रहे सवाल

संचालकों पर होगी कार्रवाई


आपको बता दें कि एईआरबी की छापेमारी से स्वास्थ्य केन्द्र चलाने वालों में हड़कंप मचा हुआ है। कई तो छापेमारी की खबर सुनकर ही केंद्र पर ताला डालकर फरार हो गए हैं। छापेमारी टीम में मौजूद वैज्ञानिक ने बताया कि कई स्वास्थ्य केन्द्रों में मशीन की सुरक्षा से लेकर स्टाफ की सेफ्टी में भी कमी पाई गई। इसी वजह से उन्हें सील कर दिया गया है। स्वास्थ्य केन्द्रों को 1 महीने की चेतावनी दी गई है और कहा गया है कि सील की गई मशीनों का संचालन बिना मानकों को पूरा किए किया जाता है तो संचालकों पर कार्रवाई की जाएगी। 

 

 

Todays Beets: