Friday, June 22, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

ऋषिकेश में एईआरबी की टीम की छापेमारी से स्वास्थ्य केन्द्र संचालकों में हड़कंप, बिना लाईसेंस चल रहे मशीनों को किया सील

अंग्वाल न्यूज डेस्क
ऋषिकेश में एईआरबी की टीम की छापेमारी से स्वास्थ्य केन्द्र संचालकों में हड़कंप, बिना लाईसेंस चल रहे मशीनों को किया सील

ऋषिकेश। ऋषिकेश में अवैध तरीके से चल रहे स्वास्थ्य केन्द्रों पर परमाणु ऊर्जा नियामक परिषद(एईआरबी) की टीम ने छापेमारी की है। इस छापेमारी में शहर के निजी स्वास्थ्य जांच केंद्र में बिना लाइसेंस और मानकों के विपरीत चल रहे सिटी स्कैन और एक्स-रे सेंटर का पता चला है। छापेमारी के बाद सिटी स्कैन मशीन और एक्स रे मशीन को सील कर दिया गया है। 

मशीनों को किया सील

गौरतलब है कि राज्य में किडनी रैकेट का खुलासा होने के बाद यहां चलने वाले स्वास्थ्य केन्द्रों पर विभाग के साथ परमाणु ऊर्जा नियामक परिषद् काफी सख्त हो गया है। टीम ने देहरादून रोड पर छह निजी स्वास्थ्य जांच केंद्रों में संचालित विभिन्न मशीनों और उनके लाइसेंस की जांच की, जिसमें एक डॉयग्नोस्टिक सेंटर में बिना लाइसेंस के सिटी स्कैन मशीन का संचालन होता मिला। इसके साथ ही डेंटल और एक्स रे मशीन के संचालन में भी काफी लापरवाही देखी गई।  टीम ने सभी मशीनों को सील कर दिया है। 

ये भी पढ़ें - शक्तिमान प्रकरण का मुकदमा वापस लेने पर राजनीति तेज, पशु संरक्षक संस्था भी उठा रहे सवाल

संचालकों पर होगी कार्रवाई


आपको बता दें कि एईआरबी की छापेमारी से स्वास्थ्य केन्द्र चलाने वालों में हड़कंप मचा हुआ है। कई तो छापेमारी की खबर सुनकर ही केंद्र पर ताला डालकर फरार हो गए हैं। छापेमारी टीम में मौजूद वैज्ञानिक ने बताया कि कई स्वास्थ्य केन्द्रों में मशीन की सुरक्षा से लेकर स्टाफ की सेफ्टी में भी कमी पाई गई। इसी वजह से उन्हें सील कर दिया गया है। स्वास्थ्य केन्द्रों को 1 महीने की चेतावनी दी गई है और कहा गया है कि सील की गई मशीनों का संचालन बिना मानकों को पूरा किए किया जाता है तो संचालकों पर कार्रवाई की जाएगी। 

 

 

Todays Beets: