Friday, July 20, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

जीबी पंत कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय राष्ट्रीय स्वच्छता प्रतियोगिता में आया अव्वल, मानव संसाधन मंत्रालय से मिला पुरस्कार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
जीबी पंत कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय राष्ट्रीय स्वच्छता प्रतियोगिता में आया अव्वल, मानव संसाधन मंत्रालय से मिला पुरस्कार

पंतनगर। राष्ट्रीय स्तर पर हुए स्वच्छता प्रतियोगिता में पंतनगर कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय को स्वच्छ उच्च शिक्षण संस्थानों में पहला स्थान हासिल हुआ है। विवि कुलपति डा. जे कुमार ने इसकी पुष्टि की है। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने विश्वविद्यालय को यह पुरस्कार दिया। विवि की ओर से निर्माण एवं संयंत्र निदेशक इंजीनियर एसएस गुप्ता तथा तकनीकी एवं योजना प्रकोष्ठ समन्वयक डा. मनोज कुमार ने यह पुरस्कार ग्रहण किया। 

174 संस्थानों में हुआ चयन

गौरतलब है कि राष्ट्रीय स्तर की इस प्रतियोगिता के लिए कुल 3500 आवेदन प्राप्त हुए थे जिनमें से मात्र 174 संस्थानों के आवेदन निर्धारित मानकों के अंतर्गत पाए गए। इन 174 संस्थानों में केंद्रीय टीम द्वारा निरीक्षण के बाद, आंकलन के आधार पर संस्थानों को दो वर्गों (राजकीय एवं निजी संस्थानों) के तहत सूचीबद्ध किया।

ये भी पढ़ें - सीएम त्रिवेन्द्र रावत ने चमोली को दी बड़ी सौगात, 10 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का किया शिलान्यास


कुलपति ने जताई खुशी

आपको बता दें कि स्वच्छ संस्थान का पहला पुरस्कार मिलने पर कुलपति डा. जे कुमार ने कहा कि यह उपलब्धि पंत विश्वविद्यालय के लिए गौरव की बात है। कुलपति ने पुरस्कार का श्रेय विश्वविद्यालय के अधिकारियों, कर्मचारियों, विद्यार्थियों एवं परिसरवासियों को दिया और कहा कि उन्हें उम्मीद है कि आगे भी परिसर को इस तरह का सहयोग मिलता रहेगा।  

 

Todays Beets: