Thursday, September 21, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

जीबी पंत कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय राष्ट्रीय स्वच्छता प्रतियोगिता में आया अव्वल, मानव संसाधन मंत्रालय से मिला पुरस्कार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
जीबी पंत कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय राष्ट्रीय स्वच्छता प्रतियोगिता में आया अव्वल, मानव संसाधन मंत्रालय से मिला पुरस्कार

पंतनगर। राष्ट्रीय स्तर पर हुए स्वच्छता प्रतियोगिता में पंतनगर कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय को स्वच्छ उच्च शिक्षण संस्थानों में पहला स्थान हासिल हुआ है। विवि कुलपति डा. जे कुमार ने इसकी पुष्टि की है। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने विश्वविद्यालय को यह पुरस्कार दिया। विवि की ओर से निर्माण एवं संयंत्र निदेशक इंजीनियर एसएस गुप्ता तथा तकनीकी एवं योजना प्रकोष्ठ समन्वयक डा. मनोज कुमार ने यह पुरस्कार ग्रहण किया। 

174 संस्थानों में हुआ चयन

गौरतलब है कि राष्ट्रीय स्तर की इस प्रतियोगिता के लिए कुल 3500 आवेदन प्राप्त हुए थे जिनमें से मात्र 174 संस्थानों के आवेदन निर्धारित मानकों के अंतर्गत पाए गए। इन 174 संस्थानों में केंद्रीय टीम द्वारा निरीक्षण के बाद, आंकलन के आधार पर संस्थानों को दो वर्गों (राजकीय एवं निजी संस्थानों) के तहत सूचीबद्ध किया।

ये भी पढ़ें - सीएम त्रिवेन्द्र रावत ने चमोली को दी बड़ी सौगात, 10 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का किया शिलान्यास


कुलपति ने जताई खुशी

आपको बता दें कि स्वच्छ संस्थान का पहला पुरस्कार मिलने पर कुलपति डा. जे कुमार ने कहा कि यह उपलब्धि पंत विश्वविद्यालय के लिए गौरव की बात है। कुलपति ने पुरस्कार का श्रेय विश्वविद्यालय के अधिकारियों, कर्मचारियों, विद्यार्थियों एवं परिसरवासियों को दिया और कहा कि उन्हें उम्मीद है कि आगे भी परिसर को इस तरह का सहयोग मिलता रहेगा।  

 

Todays Beets: