Monday, January 22, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

जीबी पंत कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय राष्ट्रीय स्वच्छता प्रतियोगिता में आया अव्वल, मानव संसाधन मंत्रालय से मिला पुरस्कार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
जीबी पंत कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय राष्ट्रीय स्वच्छता प्रतियोगिता में आया अव्वल, मानव संसाधन मंत्रालय से मिला पुरस्कार

पंतनगर। राष्ट्रीय स्तर पर हुए स्वच्छता प्रतियोगिता में पंतनगर कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय को स्वच्छ उच्च शिक्षण संस्थानों में पहला स्थान हासिल हुआ है। विवि कुलपति डा. जे कुमार ने इसकी पुष्टि की है। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने विश्वविद्यालय को यह पुरस्कार दिया। विवि की ओर से निर्माण एवं संयंत्र निदेशक इंजीनियर एसएस गुप्ता तथा तकनीकी एवं योजना प्रकोष्ठ समन्वयक डा. मनोज कुमार ने यह पुरस्कार ग्रहण किया। 

174 संस्थानों में हुआ चयन

गौरतलब है कि राष्ट्रीय स्तर की इस प्रतियोगिता के लिए कुल 3500 आवेदन प्राप्त हुए थे जिनमें से मात्र 174 संस्थानों के आवेदन निर्धारित मानकों के अंतर्गत पाए गए। इन 174 संस्थानों में केंद्रीय टीम द्वारा निरीक्षण के बाद, आंकलन के आधार पर संस्थानों को दो वर्गों (राजकीय एवं निजी संस्थानों) के तहत सूचीबद्ध किया।

ये भी पढ़ें - सीएम त्रिवेन्द्र रावत ने चमोली को दी बड़ी सौगात, 10 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का किया शिलान्यास


कुलपति ने जताई खुशी

आपको बता दें कि स्वच्छ संस्थान का पहला पुरस्कार मिलने पर कुलपति डा. जे कुमार ने कहा कि यह उपलब्धि पंत विश्वविद्यालय के लिए गौरव की बात है। कुलपति ने पुरस्कार का श्रेय विश्वविद्यालय के अधिकारियों, कर्मचारियों, विद्यार्थियों एवं परिसरवासियों को दिया और कहा कि उन्हें उम्मीद है कि आगे भी परिसर को इस तरह का सहयोग मिलता रहेगा।  

 

Todays Beets: