Wednesday, September 19, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

उत्तराखंड से अनिल बलूनी जाएंगे राज्ससभा, बड़े नेताओं को पछाड़कर बनाई जगह

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड से अनिल बलूनी जाएंगे राज्ससभा, बड़े नेताओं को पछाड़कर बनाई जगह

देहरादून। भारतीय जनता पार्टी ने राज्यसभा उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है। उत्तराखंड से अनिल बलूनी को राज्यसभा भेजेगी। बलूनी आज विधानसभा में अपनी उम्मीदवारी का पर्चा भरेंगे। बताया जा रहा है कि भाजपा की तरफ से कई बड़े नेताओं को पछाड़कर अनिल बलूनी ने राज्यसभा के लिए अपनी जगह बनाई है। इसमें कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा को भी दरकिनार कर पार्टी ने साफ संदेश देने की कोशिश की है कि वह दूसरी पार्टियों से आए नेताओं को एडजस्ट नहीं करेगी। 

गौरतलब है कि भाजपा ने यह भी साफ कर दिया है कि भारी जीत हासिल करने में योगदान देने वाले नेता को ही अहम पदों पर बैठाया जाएगा। बता दें कि राज्य में पार्टी की स्थिति को देखते हुए राज्यसभा चुनाव में इस बार कोई अड़चन नहीं है। एक विधायक के निधन के बावजूद सदन में उसके 56 विधायक हैं। यहां गौर करने वाली बात है कि विधानसभा में कांग्रेस के मात्र 11 विधायक हैं ऐसे में वह पहले ही आत्मसमर्पण कर चुकी है। 

टिहरी में दूसरी बार होगा ‘बकरी स्वयंवर’, खाली होते गांव से लोगों को जोड़ने की ग्रीन पीपुल संगठ...


बता दें कि उत्तराखंड से राज्यसभा की एक सीट के लिए तमाम दावेदार लाइन में थे। स्थानीय नेताओं के साथ दूसरी पार्टी से आए नेताओं की दावेदारी के बीच पार्टी ने अनिल बलूनी को राज्यसभा भेजने का निर्णया लिया है। वहीं कुछ पैराशूट दावेदारों में पहले केंद्रीय मंत्रियों रविशंकर प्रसाद, धर्मेंद्र प्रधान, थावर चंद्र गहलोत, डॉ.जेपी नड्डा जैसे दिग्गजों के नाम सामने आए लेकिन आखिर में मुहर अनिल बलूनी के नाम पर ही लगी।

युवा नेता अनिल बलूनी को अहम जिम्मेदारी देकर भाजपा हाईकमान ने उत्तराखंड में पार्टी में नए नेतृत्व को उभारने का काम भी शुरू कर दिया है। दरअसल, भाजपा में बीसी खंडूडी और भगत सिंह कोश्यारी जैसे नेताओं के उम्रदराज होने के बाद अब दूसरी पीढ़ी के हाथ में सत्ता और संगठन की कमान है। पार्टी ये भी चिंता कर रही है कि आने वाले समय में उसके पास कुछ ऐसे चेहरे जरूर होने चाहिए, जो आगे बढ़कर नेतृत्व कर सके। केंद्र में मोदी सरकार आने के बाद अनिल बलूनी को संगठन में पहले राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया गया। इसके बाद, उन्हें राष्ट्रीय मीडिया विभाग का प्रमुख बना दिया गया। 

Todays Beets: