Monday, March 25, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

बागेश्वर में महाविद्यालय के खेल परिसर में अचानक उतार दिया चॉपड़, छात्रों में मची अफरातफरी

अंग्वाल संवाददाता
बागेश्वर में महाविद्यालय के खेल परिसर में अचानक उतार दिया चॉपड़, छात्रों में मची अफरातफरी

बागेश्वर । देवभूमि के बागेश्वर स्थित राजकीय स्नात्कोत्तर महाविद्यालय के खेल परिसर में उस समय अचानक से हड़कंप मच गया, जब एक चॉपड़ बिना अनुमति -बिना किसी पूर्व सूचना के एकदम से स्टेडियम में उतर गया। इस दौरान मैदान में करीब 300 बच्चे मौजूद थे। इसकी शिकायत किए जाने पर कोतवाल टीआर वर्मा वहां पहुंचे और चॉपड़ के पायलट से बिना अनुमति चॉपड़ स्टेडियम में उतारने के संबंध में सवाल किए। इसपर पायलट ने अपने पद का रौब दिखाते हुए बहस शुरू कर दी। इस सब के दौरान कोतवाल वर्मा ने चॉपड़ को अपने कब्जे में ले लिया है। उन्होंने कहा कि चॉपड़ का पायलट कोई अनुमति नहीं दिखा पाया है और इस तरह लापरवाही से चाॉपड़ बिना अनुमति स्टेडियम में उतार देने के दौरान कोई बड़ा हादसा भी हो सकता था। अब इस मामले की जांच करवाई जा रही है।

बता दें कि बागेश्वर के राजकीय स्नात्कोत्तर महाविद्यालय में एक एविएशन कंपनी के चॉपड़ ने बिना किसी अनुमति के लैंडिंग कर दी। जिस समय वह स्टेडियम में लैंडिंग कर रहे थे, उस दौरान वहां करीब 300 बच्चे मौजूद थे। बिना किसी अनुमति के चॉपड़ उतारने पर जब कोतवाल टीआर वर्मा ने सख्ती दिखाई तो चॉपड़ के पायलट ने अपने पद का रौब दिखाना शुरू कर दिया। इस दौरान दोनों में बहर भी हुई, जिसके बाद कोतवाल ने चॉपड़ को अपने कब्जे में ले लिया।

अजबपुर फ्लाइओवर जनता के लिए खुला , अब हरिद्वार जाने वाले को नहीं जूझना पड़ेगा जाम से


मामला जिलाधिकारी रंजना राजगुरू के संज्ञान में आने पर उन्होंने एविएशन कंपनी को गरूड़ तहसील के उपजिलाधिकारी की ओर से उड़ान की सशर्त अनुमति देने की बात कही लेकिन कोई पत्र फिलहाल प्रशासन की ओर से नहीं दिखाया जा सका। जिलाधिकारी ने कहा कि इस कंपनी ने शर्तों का पालन किया है या नहीं इसकी जांच करवाई जाएगी। इसकी रिपोर्ट मांग ली गई है।

उत्तराखंड में भी खुलेगा अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद का क्षेत्रीय कार्यालय और अकादमी

 

Todays Beets: