Monday, December 17, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

भाजपा सरकार ने कांग्रेस के एक बड़े फैसले को पलटा, क्रिकेट स्टेडियम से राजीव गांधी का नाम हटेगा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भाजपा सरकार ने कांग्रेस के एक बड़े फैसले को पलटा, क्रिकेट स्टेडियम से राजीव गांधी का नाम हटेगा

देहरादून। उत्तराखंड की भाजपा सरकार ने कांग्रेस के बड़े फैसले को पलट दिया है। देहरादून के अंतरराष्ट्रीय राजीव गांधी क्रिकेट स्टेडियम से राजीव गांधी का नाम हटाया जाएगा। सरकार की तरफ से इसकी पूरी तैयारी कर ली गई है। इस स्टेडियम का नया नाम महाराणा प्रताप इंटरनेशनल स्पोर्ट्स स्टेडियम होगा। बता दें कि कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में बने स्टेडियम का नाम पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के नाम पर किया गया था और विधानसभा चुनाव से ठीक पहले उसे राजीव गांधी के नाम पर समर्पित कर दिया था। अब भाजपा सरकार अपने एक साल का कार्यकाल पूरा होने से ठीक पहले कांग्रेस पर जोरदार हमला करने जा रही है। 

 

गौरतलब है कि पूरे देश में जहां भी चुनाव हो रहे हैं भाजपा को भारी जीत मिल रही है। दूसरी तरफ भाजपा ने कांग्रेस मुक्त भारत का नारा भी दिया है। ऐसे में आत्म विश्वास से भरी भारतीय जनता पार्टी ने स्टेडियम का नाम बदलने का फैसला लिया है। इस फैसले को अमलीजामा पहनाने के लिए खेल महकमे की ओर से प्रस्ताव अगली कैबिनेट में रखा जाएगा। खेल मंत्री अरविंद पांडेय ने बताया कि उक्त प्रस्ताव आगामी कैबिनेट में रखा जाएगा। 


ये भी पढ़ें - पेयजल निगम के अधिशासी अभियंता का रिश्वत लेने का वीडियो वायरल, शासन ने किया निलंबित

आपको बता दें भाजपा सरकार के इस फैसले का कांग्रेस ने जोरदार विरोध किया है। उसका कहना है कि भाजपा राजनीति बदले की भावना से काम कर रही है और उसने बड़ी ही चतुराई से नाम बदलने का सियासी दांव खेला है और भाजपा ने अपनी विचारधारा से जुड़े किसी महापुरुष के नाम पर न रखकर महाराणा प्रताप के नाम पर रखने का फैसला लिया है।

 

Todays Beets: