Sunday, March 24, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

भाजपा सरकार ने कांग्रेस के एक बड़े फैसले को पलटा, क्रिकेट स्टेडियम से राजीव गांधी का नाम हटेगा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भाजपा सरकार ने कांग्रेस के एक बड़े फैसले को पलटा, क्रिकेट स्टेडियम से राजीव गांधी का नाम हटेगा

देहरादून। उत्तराखंड की भाजपा सरकार ने कांग्रेस के बड़े फैसले को पलट दिया है। देहरादून के अंतरराष्ट्रीय राजीव गांधी क्रिकेट स्टेडियम से राजीव गांधी का नाम हटाया जाएगा। सरकार की तरफ से इसकी पूरी तैयारी कर ली गई है। इस स्टेडियम का नया नाम महाराणा प्रताप इंटरनेशनल स्पोर्ट्स स्टेडियम होगा। बता दें कि कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में बने स्टेडियम का नाम पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के नाम पर किया गया था और विधानसभा चुनाव से ठीक पहले उसे राजीव गांधी के नाम पर समर्पित कर दिया था। अब भाजपा सरकार अपने एक साल का कार्यकाल पूरा होने से ठीक पहले कांग्रेस पर जोरदार हमला करने जा रही है। 

 

गौरतलब है कि पूरे देश में जहां भी चुनाव हो रहे हैं भाजपा को भारी जीत मिल रही है। दूसरी तरफ भाजपा ने कांग्रेस मुक्त भारत का नारा भी दिया है। ऐसे में आत्म विश्वास से भरी भारतीय जनता पार्टी ने स्टेडियम का नाम बदलने का फैसला लिया है। इस फैसले को अमलीजामा पहनाने के लिए खेल महकमे की ओर से प्रस्ताव अगली कैबिनेट में रखा जाएगा। खेल मंत्री अरविंद पांडेय ने बताया कि उक्त प्रस्ताव आगामी कैबिनेट में रखा जाएगा। 


ये भी पढ़ें - पेयजल निगम के अधिशासी अभियंता का रिश्वत लेने का वीडियो वायरल, शासन ने किया निलंबित

आपको बता दें भाजपा सरकार के इस फैसले का कांग्रेस ने जोरदार विरोध किया है। उसका कहना है कि भाजपा राजनीति बदले की भावना से काम कर रही है और उसने बड़ी ही चतुराई से नाम बदलने का सियासी दांव खेला है और भाजपा ने अपनी विचारधारा से जुड़े किसी महापुरुष के नाम पर न रखकर महाराणा प्रताप के नाम पर रखने का फैसला लिया है।

 

Todays Beets: