Wednesday, August 15, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

पौड़ी में भी हुआ एक बड़ा सड़क हादसा, कार गिरी खाई में, एक ही परिवार के 3 लोगों की मौत

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पौड़ी में भी हुआ एक बड़ा सड़क हादसा, कार गिरी खाई में, एक ही परिवार के 3 लोगों की मौत

पौड़ी। उत्तराखंड के पौड़ी में भी बुधवार को एक बड़ा सड़क हादसा हो गया। जिसमें एक कार के खाई में गिरने से एक दंपति समेत बेटे की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि परिवार श्रीनगर से अपने गांव जा रहा था लेकिन ज्वाल्पा के पास पहुंचते ही गाड़ी अनियंत्रित होकर खाई में जा गिरी। खाई में गिरने के बाद कार के परखच्चे उड़ गए।

गौरतलब है कि उत्तराखंड के श्रीनगर में रहने वाले महिताब सिंह रावत अपने परिवार के साथ अपने पुश्तैनी गांव एकेश्वर ब्लाॅक के छामा जा रहे थे लेकिन ज्वाल्पा के पहुंचने के बाद ही गाड़ी पूरी तरह से अनियंत्रित होकर हादसे का शिकार हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से रेस्क्यू शुरू किया।

ये भी पढ़ें - देहरादून के इस छात्र को मिला विदेशी विश्वविद्यालयों से दाखिले का आॅफर, जानिए वजह...


बता दें कि इस हादसे में महिताब सिंह रावत (62), उनकी पत्नी सुमा देवी (57) और बेटा नवीन चंद्र रावत (29) की मौत हो गई है, नवीन चंद्र शादीशुदा थे। कार में तीन ही लोग सवार बताए जा रहे हैं। शवों का खाई से निकालकर पौड़ी जिला अस्पताल भेजा जा रहा है। पुलिस ने बताया कि महिताब सिंह का परिवार श्रीनगर डांग में रहता है। सभी पाटीसैंण से आगे अपने मूल गांव छामा पूजा में शामिल होने जा रहे थे। हादसे की सूचना पर घर में कोहराम मच गया है। 

Todays Beets: